ताज़ा खबर
 

‘गलती करोगे तो हो जाएगा एनकाउंटर’, पशुपालन मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव की धमकी

प्रदेश के पशुपालन मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव ने कहा, 'यह एक सबक है। अगर आपका आचरण गलत है तो आप किसी भी अदालती मुकदमे, जेल की सजा या बाद की जमानत से लाभान्वित नहीं होंगे।'

Talasani Srinivas Yadavपशुपालन मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव। (फोटो सोर्स ट्विटर)

तेलंगाना सरकार में एक वरिष्ठ मंत्री ने पशु चिकित्सक संग गैंगरेप और उसकी हत्या के आरोपियों की पुलिस एनकाउंटर में मौत को जायज ठहराया है। मंत्री ने शनिवार (7 दिसंबर, 2019) को कहा कि जो कोई क्रूर तरह से अपराध करता है वो इस तरह के पुलिस एनकाउंटर में मारे जाने के बारे में सोच सकता है। स्थानीय टीवी चैनल को दिए साक्षात्कार में राज्य के पशुपालन मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव ने कहा, ‘यह एक सबक है। अगर आपका आचरण गलत है तो आप किसी भी अदालती मुकदमे, जेल की सजा या बाद की जमानत से लाभान्वित नहीं होंगे। अब ऐसा कुछ नहीं होगा। इसके जरिए हमने एक संदेश भेजा है कि अगर ऐसा कुछ करते हैं जो बहुत गलत और क्रूर है तो एनकाउंटर होगा।’

पशुपालन मंत्री ने आगे कहा कि यह एक बहुत मजबूत संदेश है जो हमने भेजा है। यह देश के लिए आदर्श है जो हमने स्थापित किया है। हम ना केवल अपनी कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से, बल्कि कानून-व्यवस्था के मुद्दों से निपटने के माध्यम से भी एक मॉडल स्थापित कर रहे हैं। वरिष्ठ मंत्री ने कहा, ‘इस संबंध में मुख्यमंत्री को चुनने से कोई फायदा नहीं होगा क्योंकि कई ऐसे हैं जो उनका समर्थन करते हैं।

पशुपालन मंत्री की तरह प्रदेश के ही परिवहन मंत्री जी. अजय कुमार ने भी शुक्रवार को इसी तरह का दावा किया। उन्होंने कहा कि राज्य ने “त्वरित न्याय” सुनिश्चित करने में खुद को रोल मॉडल के रूप में साबित किया है। कुमार ने यह कहते हुए की एनकाउंटर पीड़ित परिवार को शांति देगा, कहा कि हमने दिखाया है कि अगर कोई हमारी बेटियों पर बुरी नजर डालता है तो हम उसकी आंखें निकाल लेंगे।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के मुख्य जज एस बोबडे ने भी चारों आरोपियों के एनकाउंटर के बाद प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने कहा कि अगर यह बदले के इरादे से किया गया है तो यह न्याय कतई न्याय नहीं हो सकता। अगर बदले की भावना से ऐसा किया जाए तो न्याय अपना चरित्र खो देता है।

उल्लेखनीय है कि 27 नवंबर को पशुचिकित्सक संग गैंगरेप और उसे जिंदा जलाने के आरोपियों के एनकाउंटर पर देशभर के हर तबके से अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। इसमें एक धड़े का मानना है कि इस तरह की कार्रवाई सख्त संदेश देगी जबकि एक धड़े का मानना है कि कोर्ट में अपनी बेगुनाही साबित करने का मौका दिए बिना आरोपियों की हत्या के तरीके की निंदा की है।

हैदराबाद के पुलिस कमिश्नर ने कहा कि चारों आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई उस वक्त की जब उन्होंने पुलिस पर पत्थरों और लाठियों से हमला कर दिया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 IRCTC INDIAN RAILWAYS बंद कर रहा स्टेशनों पर 2 रुपये में शुद्ध पानी की सर्विस!
2 इंडियन एक्सप्रेस ग्रुप में “कॉपी बॉय” थे शिवसेना नेता संजय राउत, राज ठाकरे ने दी नई नौकरी फिर ऐसे बदलती गई किस्मत
3 हैवानियत का दौर जारी: अब 17 साल की लड़की को बंधक बनाकर बॉयफ्रेंड और दोस्तों ने किया गैंगरेप, फिर जिंदा जला दिया
ये पढ़ा क्या?
X