ताज़ा खबर
 

23 साल बाद ऐक्ट्रेस विजयशांति की BJP में ‘घरवापसी’, पिछले हफ्ते छोड़ा था Congress का हाथ; कहीं जाती हैं ‘साउथ की अमिताभ बच्चन’

उनका बीजेपी में आना Congress के लिए और बड़ा झटका माना जा रहा है। ऐसा इसलिए, क्योंकि बीते हफ्ते उन्होंने INC छोड़ दी थी। वैसे, सियासत से उनका काफी पहले से रिश्ता रहा है और वह कुछ और दलों में भी रह चुकी हैं।

Author Edited By अभिषेक गुप्ता नई दिल्ली | Updated: December 7, 2020 4:49 PM
Vijayashanti, Actor, BJP, Congress, TRS, Home Ministerविजयाशांति जानी-मानी दक्षिण भारतीय फिल्मों की अदाकारा हैं। (फोटोः fb/twitter-@bandisanjay_bjp)

ऐक्ट्रेस और राजनेता विजयशांति सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) का हिस्सा बन गईं। पार्टी मुख्यालय में उन्होंने कई सीनियर नेताओं की मौजूदगी में बीजेपी सदस्यता ली। शाम को पार्टी चीफ जे.पी.नड्डा से उनकी मुलाकात तय है, जबकि रविवार को वह केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और गृह राज्य मंत्री जी.कृष्ण रेड्डी से मिली थीं।

विजयशांति की दक्षिण भारत में फैन-फॉलोइंग इस कदर है कि चाहने वाले उन्हें साउथ का अमिताभ बच्चन तक कहते हैं। बहरहाल, उनका बीजेपी में आना Congress के लिए और बड़ा झटका माना जा रहा है। ऐसा इसलिए, क्योंकि बीते हफ्ते उन्होंने INC छोड़ दी थी। वैसे, सियासत से उनका काफी पहले से रिश्ता रहा है और वह कुछ और दलों में भी रह चुकी हैं।

कब किया था सियासी डेब्यू?: रोचक बात है कि उनके सियासी करिअर की शुरुआत बीजेपी से ही हुई थी। साल 1997 में वह इसी दल के साथ राजनीति में आई थीं और अब उन्होंने करीब 23 साल बाद फिर से घर वापसी कर ली है।

खुद की भी बनाई थी पार्टीः विजयाशांति ने अपनी खुद की पार्टी भी बनाई थी, पर बाद में उन्होंने उसका विलय के चंद्रशेखर राव के नेतृत्व वाली तेलंगाना राष्‍ट्र समिति (TRS) में करा लिया। हालांकि, वहां जाने का उन्हें फायदा हुआ और वह सांसद बनीं। फिर INC का हाथ खाम लिया था।

इस्तीफा देने वाली दूसरी हाई प्रोफाइल कांग्रेसी नेत्रीः वैसे, विजयशांति पहली हाई प्रोफाइल कांग्रेस नेत्री नहीं हैं, जो वहां से बीजेपी में शामिल हुई हैं। उनसे पहले खुशबू सुंदर ने कांग्रेस को अलविदा कह दिया था, जो कि तमिलनाडु से ताल्लुक रखती हैं।

INC से चल रही थीं नाराज!: ऐक्ट्रिंग लाइन से राजनीति में आईं विजयशांति के करीबियों के हवाले से कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया कि वह बीते कुछ वक्त से कांग्रेस असंतुष्ट चल रही थीं। शायद यही वजह थी कि वह पिछले कुछ महीनों से पार्टी के कार्यक्रमों और गतिविधियों में हिस्सा नहीं ले रही थीं।

PM के लिए दे चुकी हैं ये बयानः वह भाजपा में रहीं भी और भले ही दोबारा उसी में आ गईं हों, पर कम ही लोग जानते हैं कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आतंकी तक से तुलना करा चुकी हैं। तेलंगाना के श्मशाबाद में एक रैली के दौरान उन्होंने कहा था, “हर कोई इस खौफजदा है कि कब मोदी बम फेंक दें। वह आंतकी जैसे लगते हैं। लोगों को प्यार करने के बजाय वह उन्हें डरा रहे हैं। ऐसा कोई प्रधानमंत्री नहीं होता है।”

Next Stories
1 जबानी जमा खर्च मत कीजिए…ये किसानों की लड़ाई है उनसे खिलवाड़ मत करें, बोली कांग्रेस प्रवक्ता तो किसान नेता ने दिया जवाब
2 ‘सेंट्रल विस्टा’ के भूमि पूजन पर विवाद! विपक्ष ने दागा सवाल- ये धर्मनिरपेक्षता के खिलाफ, हो सारे धर्मों की प्रार्थना सभा
3 किसान आंदोलनः डीएनडी पर जाम में फंसी थी एंबुलेंस, देखें कैसे पुलिस ने बनाया रास्ता
ये पढ़ा क्या?
X