ताज़ा खबर
 

स्वतंत्रता दिवस पर मिला बेस्ट पुलिसवाले का अवॉर्ड, अगले दिन घूस लेते हुए हुआ गिरफ्तार

अवॉर्ड मिलने के 24 घंटे बाद ही वह एकबार फिर सुर्खियों में आ गए। अधिकारी को शुक्रवार शाम 5 बजे रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा।

Author हैदराबाद | Published on: August 17, 2019 5:03 PM
स्वतंत्रता दिवस पर मंत्री ने दिया था बेस्ट पुलिसवाले का अवॉर्ड। फोटो: Twitter/ CoreenaSuares

तेलंगाना में एक पुलिस अधिकारी को घूस लेने पर गिरफ्तार किया गया है। घूसे लेने वाले अधिकारी को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बेस्ट पुलिसवाले का अवॉर्ड मिला था। लेकिन इसके अगले ही दिन वह घूस लेते रंगे हाथों पकड़े गए। पुलिस अधिकारी का नाम पल्ले तिरुपति रेड्डी है। महबूब नगर स्थित आई-टाउन पुलिस स्टेशन में तैनात रेड्डी को 15 अगस्त के दिन आबकारी मंत्री वी श्रीनिवास गौड़ और जिला पुलिस अधीक्षक रेमा राजेश्वरी की मौजूदगी में सम्मानित किया गया था।

लेकिन अवॉर्ड मिलने के 24 घंटे बाद ही वह एकबार फिर सुर्खियों में आ गए। अधिकारी को शुक्रवार शाम 5 बजे रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा। पुलिस अधिकारी को एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने 17 हजार रुपए कैश के कथित घूस लेने के मामले में गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि पल्ले तिरुपति रेड्डी ने यह घूस एक शख्स के खिलाफ केस दर्ज न करने के लिए ली थी।

शिकायतकर्ता रेत व्यापारी मुदवथ रमेश के मुताबिक उन्हें पुलिस अधिकारी द्वारा पिछले एक साल से लगातार परेशान किया जा रहा था। पुलिस अधिकारी उनसे कह रहे थे कि उन्हें झूठे केस में फंसाया जाएगा और साथ उनका ट्रक जब्त कर लिया जाएगा। अगर घूस देने से इनकार किया तो अंजाम बुरे होंगे।

रमेशा ने बताया कि मुझे घूस देने के लिए कहा गया जबकि मेरे पास सभी तरह के वैध दस्तावेज मौजूद थे। मुझे लगातार मिल रही धमकियों के बाद मैंने शिकायत दर्ज करवाई। वहीं रेड्डी को गिरफ्तार कर उनकी एसीबी कोर्ट में पेशी हुई जिसके बाद उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

मामले पर एंटी करप्शन ब्यूरो के डीएसपी एस कृष्ण गौड़ ने पत्रकारों को बताया कि कांस्टेबल कथित रूप से वेंकटापुर गांव के निवासी जिसकी पहचान रमेश के रूप में हुई है। आरोप है कि तिरुपति रेड्डी उन्हें एक साल से परेशान कर रहा था। ट्रैक्टर के जरिए रेत की सप्लाई करने पर उन्हें घूस देने के लिए कहा जा रहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories