ताज़ा खबर
 

MNS नेता की धमकी के बाद तेजस होस्टेस के पहनावे में बदलाव, अहमदाबाद से मुंबई लौटते वक्त सिर पर दिखी गांधी टोपी

मामले में MNS नेता मिलिंद पांचाल ने कहा कि तेजस एक्सप्रेस पर फिलहाल अंग्रेजी, हिंदी और गुजराती में सूचनाएं लिखी जा रही हैं। इसमें मराठी भाषा में भी निर्देश लिखे जाने चाहिए। बता दें कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना मराठी अस्मिता के मुद्दे पर मुखर आवाज उठाती रही है।

तेजस एक्सप्रेस (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) की धमकी के चलते एक दिन बाद ही तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express) में बड़ा बदलाव देखने को मिला। दरअसल MNS ने इस ट्रेन के स्टाफ के पहनावे को लेकर विरोध जाहिर किया था। इसके बाद अहमदाबाद से मुंबई (Ahmedabad to Mumbai) लौटते वक्त स्टाफ के सिर पर गांधी टोपी लगी नजर आई। मुंबई सेंट्रल (Mumbai Central) और वापी (Vapi) के बीच यात्रियों को सर्विस देते समय स्टाफ ने गांधी टोपी लगा रखी थी।

यह थी मनसे नेता की धमकीः गुरुवार (16 जनवरी) को MNS नेता मिलिंद पांचाल ने कहा था, ‘यदि महाराष्ट्रियन संस्कृति को नहीं अपनाया और ट्रेन की वापसी के दौरान होस्टेस की यूनिफॉर्म नहीं बदली तो महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना अपने अंदाज में सबक सिखाएगी।’ उन्होंने सवाल उठाया कि यदि अहमदाबाद से ट्रेन चलते समय गुजराती संस्कृति का प्रतिनिधित्व किया जाता है तो मुंबई से लौटते समय महाराष्ट्रियन संस्कृति क्यों नहीं दिखाई जाती?

Hindi News Live Hindi Samachar 18 January 2020: देश की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

भाषा को लेकर भी उठाई मांगः पांचाल ने इसके साथ ही भाषा का मसला भी उठाया। उन्होंने कहा कि तेजस एक्सप्रेस पर फिलहाल अंग्रेजी, हिंदी और गुजराती में सूचनाएं लिखी जा रही हैं। इसमें मराठी भाषा में भी निर्देश लिखे जाने चाहिए। बता दें कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना मराठी अस्मिता के मुद्दे पर मुखर आवाज उठाती रही है। इससे पहले कई बार ‘मराठी मानुष’ की राजनीति के नाम पर उत्तर भारतीयों के साथ दुर्व्यवहार के भी कई मामले सामने आ चुके हैं। मनसे प्रमुख राज ठाकरे के बयान भी अक्सर सुर्खियों में रहते हैं।

गौरतलब है कि बीते दिनों में नई दिल्ली से लखनऊ, नई दिल्ली से वैष्णोदेवी समेत कई रुट पर तेजस एक्सप्रेस का संचालन शुरू किया गया है। मुंबई से अहमदाबाद के बीच भी तेजस एक्सप्रेस चल रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Weather Update: यूपी-दिल्ली में घने कोहरे का कहर, राजस्थान में अगले 24 घंटे कड़ाके की ठंड के आसार
2 BJP के साथी अकाली दल में बगावत? बादल परिवार के खिलाफ सांसद सुखदेव सिंह ढींढसा ने शुरू किया ‘सफर-ए-अकाली लहर’
3 वरिष्ठ पत्रकार का दावा- यूनिवर्सिटीज पर कंट्रोल का गुजरात मॉडल पहुंच चुका दिल्ली, कुलपति बन रहे सियासी दलों के वफादार
ये पढ़ा क्या?
X