ताज़ा खबर
 

बेकाबू भीड़ ने हत्यारोपी को पुलिस के सामने ही पीट-पीटकर मार डाला, यूपी के कुशीनगर की है घटना

यूपी के कुशीनगर में शिक्षक की हत्‍या के बाद बदमाश उनके घर की छत पर चढ़ हवाई फायरिंग कर दहशत फैलाने की कोशिश करने लगा। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी, लेकिन पुलिस करीब डेढ़ घंटे बाद मौके पर पहुंची।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: September 7, 2020 2:15 PM
UP Kushinagar Murder Accusedउत्तर प्रदेश के कुशीनगर में बेकाबू भीड़ ने पुलिस के सामने ही हत्‍यारोपी को लाठी-डंडे से पीट-पीटकर मार डाला।

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में बेकाबू भीड़ ने पुलिस के सामने ही एक हत्यारोपी की लाठी-डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी। बता दें कि शिक्षक की सोमवार सुबह गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। वह अपने घर पर सो रहे थे। इस हत्याकांड से इलाके में तनाव फैल गया। शिक्षक की हत्‍या के बाद बदमाश उनके घर की छत पर चढ़कर हवाई फायरिंग कर दहशत फैलाने की कोशिश करने लगा।

लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी, लेकिन पुलिस करीब डेढ़ घंटे बाद मौके पर पहुंची, तब तक भीड़ अपना सब्र खो चुकी थी। प्रत्‍यक्षदर्शियों के मुताबिक, हत्‍यारोपी अपनी जान बचती नहीं देख आत्‍मसमर्पण करना चाहता था लेकिन बेकाबू भीड़ ने लाठी-डंडे से पीट-पीटकर उसे मार डाला। इस दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी तमाशा देखती रही। जिले के तरया सुजान थाना क्षेत्र के रामपुर बंगरा में रहने वाले सुधीर सिंह बिहार में शिक्षक थे।

सोमवार सुबह 8 बजे के करीब स्कूटी से आए अज्ञात हमलावर ने उनके घर में घुसकर उन पर फायर झोंक दिए। ग्रामीणों के मुताबिक, हमलावर ने जिस समय घटना को अंजाम दिया उस समय सुधीर सो रहे थे। हमलावर ने सुधीर को तीन गोलियां मारीं। उनकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद हमलावर ने शिक्षक के घर की छत पर चढक़र हवाई फायर करना शुरू कर दिया।

फायरिंग की आवाज सुनकर आसपास के लोग मौके पर ग्रामीण लाठी-डंडे लेकर पहुंचे। उन्‍होंने हमलावर की घेराबंदी की और पुलिस को सूचना दी। ग्रामीणों का आरोप है कि सूचना के बावजूद पुलिस करीब डेढ़ घंटे बाद मौके पर पहुंची। पुलिस को देखकर हमलावर ने दोनों हाथ ऊपर उठाकर आत्मसमर्पण करने का प्रयास किया। पुलिस उसे छत से नीचे उतार लाई। उसके बाद एक पुलिस वाहन में ले जा रही थी।

लेकिन तब तक भीड़ बेकाबू हो चुकी थी। ग्रामीणों ने उसे कथित रूप से खींच लिया और उस पर टूट पड़े। गुस्साए ग्रामीणों ने लाठी-डंडे से पीटकर हमलावर को मार डाला। पुलिस पूरे घटनाक्रम के दौरान लाचार दिखी। सीओ तमकुहीराज की अगुआई में पुलिस हत्‍यारोपी को मौके से निकालने की कोशिश में जुटी थी। लेकिन ग्रामीणों के गुस्से के कारण कई बार संघर्ष की नौबत आ गई।

ग्रामीण किसी भी दशा में हमलावर को पुलिस को हवाले करने को तैयार नहीं थे। मौके पर अब भी तनाव बना हुआ है। पुलिस के मुताबिक, हत्यारोपी गोरखपुर का रहने वाला था। उसने कथित तौर पर अपने पिता की बंदूक का इस्तेमाल करके एक शिक्षक की गोली मारकर हत्या कर दी।

Next Stories
1 लालू यादव ने शेयर किया नीतीश कुमार के ‘चुनावी चूर्ण’ से जुड़ा कार्टून, कहा- वर्चुअल-फर्चुअल नहीं एक्चुअल बताओ…लोग करने लगे ऐसे कमेंट्स
2 BKI के 2 आतंकी अरेस्ट, भारी मात्रा में हथियार बरामद; दिल्ली-पंजाब के नेता थे निशाने पर
3 चीन की बड़ी साजिश, सामने से सेनाओं के पीछे हटने का बहाना, पीछे से LAC पर तैनात कर दीं तीन अतिरिक्त बटालियन
ये पढ़ा क्या?
X