ताज़ा खबर
 

स्थगित होने के बावजूद राज्‍यसभा छोड़कर नहीं गए टीडीपी सांसद, एक की तबियत बिगड़ी

सांसद अपनी मांगों को लेकर सदन के अंदर ही डटे रहे। बाद में धरने पर बैठीं एक सांसद की तबियत बिगड़ गई। जिनका सदन के अंदर ही इलाज किया गया। आपको बता दें कि टीडीपी पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का ही हिस्सा थी, लेकिन आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर टीडीपी बीजेपी से अलग हो गई थी।

टीडीपी सांसद सीतारमन लक्ष्मी की तबियत बिगड़ी

राज्यसभा स्थगित होने के बावजूद सांसद सदन छोड़ कर नहीं गए। कई घंटों तक धरने पर बैठे रहने का नतीजा यह हुआ कि सदन के अंदर ही डॉक्टर को बुलाना पड़ा क्योंकि धरने पर बैठे एक सांसद की अचानक तबियत बिगड़ गई। तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) की सांसद सीतारमन लक्ष्मी की तबियत गुरुवार (05-04-2018) को सदन में अचानक बिगड़ गई। तबियत खराब होने की वजह से सदन के अंदर ही डॉक्टर को बुलाना पड़ा। डॉक्टर ने सदन के अंदर ही सांसद सीतारमन लक्ष्मी की प्राथमिक जांच की।

दरअसल संसद के बजट सत्र में टीडीपी सांसद आंध्र प्रदेश के लिए विशेष दर्जे की मांग को लेकर लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। सांसदों के हंगामे की वजह से गुरुवार को राज्यसभा की कार्यवाही एक बार फिर दिन भर के लिए स्थगित करनी पड़ी। लेकिन राज्यसभा स्थगित होने के बावजूद घंटों तक टीडीपी के सांसद सदन में बैठे रहे और सदन को खाली करने से साफ इनकार कर दिया। इस दौरान राज्यसभा के स्टाफ और मार्शलों ने सासंदों से सदन छोड़ने की अपील की लेकिन सासंदों ने इससे साफ इनकार कर दिया।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Gold
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback
  • BRANDSDADDY BD MAGIC Plus 16 GB (Black)
    ₹ 16199 MRP ₹ 16999 -5%
    ₹1620 Cashback

सांसद अपनी मांगों को लेकर सदन के अंदर ही डटे रहे। बाद में धरने पर बैठीं एक सांसद की तबियत बिगड़ गई। जिनका सदन के अंदर ही इलाज किया गया। आपको बता दें कि टीडीपी पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का ही हिस्सा थी, लेकिन आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर टीडीपी बीजेपी से अलग हो गई थी। अब टीडीपी सांसद इस संसद सत्र में लगातार अपनी मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। आंध्र प्रदेश के लिए स्पेशल पैकेज और विशेष दर्जे की मांग को लेकर टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस लगातार संसद के भीतर और बाहर प्रदर्शन कर रही है

सांसदों के इस हंगामे के चलते सदन की कार्यवाही पिछले कई दिनों से बाधित है। इस सत्र का अब आखिरी दिन बचा है और टीडीपी सांसद आंध्र प्रदेश के लिए विशेष राज्य के दर्जे से कम पर मानने के लिए किसी भी कीमत पर राजी नहीं हैं। इस बात की उम्मीद बहुत ही कम है कि शुक्रवार को भी राज्यसभा में सत्र सुचारू ढंग से चल पाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App