ताज़ा खबर
 

पासपोर्ट विवाद पर ट्रोल हुईं सुषमा, कई उदाहरण देख अधिकारियों की राय- न दी जाए फौरी राहत

विदेश मंत्रालय को किए गए एक ट्वीट में तत्‍काल पासपोर्ट की मांग करने वाले एक जोड़े ने तुर्की में हनीमून के प्‍लान होने का हवाला दिया था। बाद में पता चला कि वे कई सालों से शादीशुदा थे।

Author July 1, 2018 3:09 PM
संयुक्‍त राष्‍ट्र में अमेरिकी राजदूत निक्‍की हेले के साथ सुषमा स्‍वराज। (Photo: AP)

बीते दिनों सुषमा स्‍वराज को हिंदुत्‍व ब्रिगेड द्वारा बुरी तरह ट्रोल किया गया। लखनऊ पासपोर्ट कार्यालय के एक अधिकारी को इस शिकायत पर ट्रांसफर कर दिया गया था कि उसने एक हिंदू-मुस्लिम जोड़े को परेशान किया था। हालांकि बाद में हुई जांच में ऐसा प्रतीत हुआ कि इस जोड़े के फॉर्म में कई गलतियां थीं और गलत जानकारियां दी गई थीं। सुषमा भले ही सीधे तौर पर इस मामले से न जुड़ी रहीं हों मगर सिर्फ ट्वीट्स के आधार पर फौरी न्‍याय करने के नुकसान जरूर इससे जाहिर होते हैं।

विदेश मंत्रालय को किए गए एक ट्वीट में तत्‍काल पासपोर्ट की मांग करने वाले एक जोड़े ने तुर्की में हनीमून के प्‍लान होने का हवाला दिया था। बाद में पता चला कि वे कई सालों से शादीशुदा थे। गायक अदनान सामी ने ट्वीट किया कि कुवैती अधिकारियों ने उसके स्‍टाफ को ‘भारतीय कुत्‍ते’ कहा। स्‍वराज ने सहानुभूति जताते हुए इसका जवाब दिया और सामी को कॉल करने को कहा। बाद में सुषमा का वह ट्वीट डिलीट कर दिया गया, शायद इसलिए क्‍योंकि सामी की कहानी में पेंच थे।

सरकार ने भारतीयों के ट्वीट्स पर दो विमान दक्षिणी सूडान भिजवा दिए थे। मगर वह विमान आधा खाली लौटे क्‍योंकि उस क्षेत्र में शांति आ चुकी थी और कई शिकायतकर्ताओं ने वहीं रुकने का फैसला कर लिया था। इसी तरह, सऊदी अरब में कई वर्कर्स ने ट्वीट किया कि उन्‍हें बिना पैस दिए लेबर कैम्‍प्‍स में बंदी बनाया गया है। भारत की ओर से सहयोगपूर्ण रवैये के बावजूद, बहुत कम लोग वापस लौटना चाहते थे।

भारत के व्‍यवहार से सऊदी अरब की सरकार नाखुश थी। विदेश मंत्रालय के परेशान अधिकारी कहते हैं कि यह सही होगा कि सभी ट्वीट् को एक ग्रीवांस कमेटी को भेजा जाए जो पहले दावों की सत्‍यता परखे न कि फौरी राहत दिलाए।

पासपोर्ट प्रकरण में जब महिला की ओर से मामला मीडिया में उछला तो आनन-फानन में हाथोंहाथ उसे पासपोर्ट दे दिया गया था, जो कि नियमों का सीधा उल्‍लंघन है। एड्रेस वेरिफिकेशन में पता चला कि महिला ने लखनऊ का जो पता दिया है, वहां वह कई सालों से नहीं रहती।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X