X

नरेंद्र मोदी को नोबेल शांति पुरस्कार दिलाने की मुहिम में जुटीं तमिलनाडु बीजेपी अध्यक्ष, जनता से भी की अपील

बीजेपी नेता द्वारा जारी प्रेस रिलीज के मुताबिक नोबेल शांति पुरस्कार 2019 के लिए नॉमिनेशन देने की आखिरी तारीख जनवरी 31 2019 है। नॉमिनेशन की प्रक्रिया हर साल सितंबर में होती है। सुंदरराजन ने कहा कि यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और सांसद भी प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार के लिए नॉमिनेट कर सकते हैं।

भाजपा की तमिलनाडु इकाई की अध्यक्ष तमिलीसाई सुंदरराजन ने सोमवार को कहा कि ‘‘दुनिया की सबसे बड़ी’’ स्वास्थ्य योजना शुरू करने के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को नोबल शांति पुरस्कार के लिए ‘नामित’ किया है। राज्य भाजपा प्रमुख के कार्यालय की तरफ से जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया कि उनके पति प्रोफेसर पी सुंदरराजन ने भी मोदी को नोबल के लिए नामित किया है। उनके पति एक निजी विश्वविद्यालय में नेफ्रोलॉजी विभाग के प्रमुख हैं। विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना -आयुष्मान भारत की शुरुआत करने के लिए डॉ. तमिलीसाई सुंदरराजन ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को नोबल शांति पुरस्कार 2019 के लिए नामित किया है।’’

सुंदरराजन ने एक प्रेस रिलीज में कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ये दूरदर्शी योजना लाखों लोगों की जिंदगी बदल देगी, खासकर गरीब और पिछड़े तबके के लोगों पर इसका व्यापक असर होगा।” बीजेपी नेता ने कहा कि भारत में गरीबी का मुख्य कारण लोगों का इलाज पर खर्च है। उन्होंने स्वास्थ्य केन्द्रओं और हेल्थ सेक्टर के क्षेत्र में काम कर रही संस्थाओं से आग्रह किया कि वे प्रधानमंत्री की इस योजना का पूरा फायदा उठाएं। उन्होंने दावा किया कि अगर इस योजना को ठीक तरीके से लागू किया गया तो ये भारत में स्वास्थ्य सेवाओं के परिदृश्य को बदल कर रख देंगी। उन्होंने स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने वाली कंपनियों, संस्थाओं से कहा कि वे भी इस कार्य के लिए पीएम नरेंद्र मोदी को नोबेल शांति पुरस्कार 2019 के लिए नामित करें।

बीजेपी नेता द्वारा जारी प्रेस रिलीज के मुताबिक नोबेल शांति पुरस्कार 2019 के लिए नॉमिनेशन देने की आखिरी तारीख जनवरी 31 2019 है। नॉमिनेशन की प्रक्रिया हर साल सितंबर में होती है। सुंदरराजन ने कहा कि यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और सांसद भी प्रधानमंत्री को नोबेल शांति पुरस्कार के लिए नॉमिनेट कर सकते हैं। बता दें कि 23 सितंबर (रविवार) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड की राजधानी रांची में 10 करोड़ परिवार को मुफ्त स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराने वाली योजना आयुष्मान भारत को लॉन्च किया था। बीजेपी सरकार का दावा है कि ये दुनिया की सबसे बड़ी मुफ्त स्वास्थ्य सेवा योजना है।

  • Tags: nobel peace prize,