ताज़ा खबर
 

जिलाधिकारियों से बातचीत के दौरान मोदी से हुई चूक, बोले- तेजी से बढ़ें पॉजिटिव केस, आने लगे ऐसे कमेंट्स

अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बात करते हुए पीएम ने देश में पॉजिटिव केस बढ़ाने की बात कही। कांग्रेस ने इस वीडियो को शेयर करते हुए पीएम पर निशाना साधा और कहा कि प्रधानमंत्री जी 'पॉजिटिव केस' बढ़ाने की बात कह रहे हैं, जुबां पर वही आता है, जो दिमाग में चल रहा होता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों और जिलों के अधिकारियों से बातचीत की। (Express file photo)

देश में कोरोना के तेजी से फैलते संक्रमण के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों और जिलों के अधिकारियों से बातचीत की। इस दौरान पीएम मोदी से बड़ी चूक हो गई, जिसके बाद कांग्रेस ने उनके ऊपर निशाना साधा है। दरअसल अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बात करते हुए पीएम ने देश में पॉजिटिव केस बढ़ाने की बात कही।

पीएम मोदी का अधिकारियों से बात करने का एक वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। इसमें पीएम ने कह रहे है कि “तेजी से पॉजिटिव केसों की संख्या बढ़े, तेजी से टेस्ट ज्यादा हो इन सभी बातों पर हमें बल देना है।” कांग्रेस ने इस वीडियो को शेयर करते हुए पीएम पर निशाना साधा और कहा कि प्रधानमंत्री जी ‘पॉजिटिव केस’ बढ़ाने की बात कह रहे हैं, जुबां पर वही आता है, जो दिमाग में चल रहा होता है।

कांग्रेस ने लिखा “प्रधानमंत्री जी ‘पॉजिटिव केस’ बढाने का प्रयास करने के लिए सिर्फ कह नहीं रहे हैं, बल्कि पश्चिम बंगाल में चुनावी रैलियों में भीड़ गिनकर इन्होंने पहले उदाहरण प्रस्तुत किया है- पॉजिटिव केस बढ़ाने का। वैसे भी जुबां पर वही आता है, जो दिमाग में चल रहा होता है।”

श्रीवस्ता नाम के एक यूजर ने लिखा “मोदी टेलिप्रोंप्टर से भी ढंग से नहीं पढ़ सकते, पॉजिटिव केस बढ़ाने की बात कह रहे हैं।” एक यूजर ने लिखा “प्रधानमंत्री जी की जुबां फिसल जाए तो समझ जाओ, हाथ से सबकुछ फिसल गया है, इसलिए कोरोना गाइडलाइंस का पालन करो, सरकार से किसी भी प्रकार की कोई आशा मत रखों, एक रोटी कम खा लेंगे, लेकिन किसी जरूरतमंद को भूखा नहीं सोने देंगे, लड़ेंगे कोरोना से जंग जीतेंगे।”

प्रधानमंत्री ने टीकाकरण को कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में एक सशक्त माध्यम बताया और कहा कि बड़े पैमाने पर इसकी आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए सरकार के प्रयास निरंतर जारी हैं। राज्यों और जिलों के अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संवाद के बाद अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर में ग्रामीण और दुर्गम क्षेत्रों पर बहुत ध्यान देना होगा। उन्होंने कहा कि जब जिला कोरोना को हराएगा तभी देश कोरोना से जंग जीतेगा।

उन्होंने कहा, ‘‘टीकाकरण कोविड से लड़ाई का एक सशक्त माध्यम है, इसलिए इससे जुड़े हर भ्रम को हमें मिलकर दूर करना है। कोरोना के टीके की आपूर्ति को बहुत बड़े स्तर पर बढ़ाने के निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं।’’ मोदी ने कहा कि देश में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। उन्‍होंने टीकों की बर्बादी को रोकने पर भी बल दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पीएम केयर्स के माध्यम से देश के हर जिले के अस्पतालों में ऑक्सीजन संयंत्र लगाने पर तेजी से काम किया जा रहा है और कई अस्पतालों में इन संयंत्रों ने काम शुरू कर दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में इस समय कुछ राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं तो कुछ राज्यों में बढ़ भी रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘कम होते आंकड़ों के बीच हमें ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। हमारी लड़ाई एक-एक जीवन बचाने की है।’’

Next Stories
1 वैक्सीन के दोनों डोज लेने के बाद भी जरूरी है मास्क, जानें कैसे अलग है अमेरिका से भारत की स्थिति
2 भाजपा प्रवक्ता ने कांग्रेस की कर दी कब्रिस्तान से तुलना, कहा- गिद्ध की तरह लाशें देखते रहते हैं, मिला जवाब
3 यह लहर काफी दिन पीक पर रहेगी, एकदम से न गिरेगा कोविड संक्रमण का ग्राफ
आज का राशिफल
X