ताज़ा खबर
 

निजामुद्दीन मरकज: कोर्ट ने दिये निर्देश, पांच दिन में निरीक्षण कर रिहायशी हिस्से की चाबी मौलान साद के परिवार को सौंपें

अदालत साद की माता खालिदा की याचिका पर सुनवाई कर रही थी जिन्होंने उस परिसर को खोलने का अनुरोध किया, जहां वह रहती थीं।

Maulana Saad, Tablighi Jammatनिजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात के कार्यक्रम में विदेशी नागरिकों समेत हजारों लोगों के हिस्सा लेने के बाद साद और छह अन्य के खिलाफ 31 मार्च को एक प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। (फाइल फोटो)

शहर की एक अदालत ने दिल्ली पुलिस को निजामुद्दीन मरकज के रिहायशी हिस्से की चाबी तबलीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद के परिवार को सौंपने का निर्देश दिया है। कोविड-19 दिशा-निर्देश का उल्लंघन कर धार्मिक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद इस परिसर को बंद कर दिया गया था।

मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट गुरमोहिना कौर ने जांच एजेंसियों को परिसर का निरीक्षण कर इसे साद के परिवार को सौंपने के लिए पांच दिन का समय दिया। अदालत साद की माता खालिदा की याचिका पर सुनवाई कर रही थी जिन्होंने उस परिसर को खोलने का अनुरोध किया, जहां वह रहती थीं। अदालत ने खालिदा और उनके परिवार के सदस्यों को एक हलफनामा भी देने को कहा है कि वे किसी भी तरह से मामले की जांच में बाधा नहीं पहुंचाएंगे और परिसर के रिहायशी हिस्से का इस्तेमाल केवल रहने के लिए किया जाएगा। मरकज के किसी अन्य हिस्से में वे नहीं जाएंगे।

अदालत ने 11 सितंबर को सुनाए गए आदेश में कहा कि देश के हर नागरिक को संविधान के तहत जीवन और आजादी का अधिकार हासिल है और रिहायशी परिसर तक पहुंच का अधिकार भी इन्हीं अधिकारों में समाहित है। निजामुद्दीन के थाना प्रभारी की शिकायत पर तबलीगी जमात के नेता मौलाना साद कंधालवी और छह अन्य के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। महामारी कानून, आपदा प्रबंधन कानून (2005), विदेशी कानून और भारतीय दंड संहिता की अन्य प्रासंगिक धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था।

निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात के कार्यक्रम में विदेशी नागरिकों समेत हजारों लोगों के हिस्सा लेने के बाद साद और छह अन्य के खिलाफ 31 मार्च को एक प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। धार्मिक कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले कई लोग बाद में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे।

(भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 संसद के मानसून सत्र के पहले चरण में नहीं शामिल होंगे सोनिया और राहुल, रूटीन चेकअप के लिए विदेश गईं कांग्रेस अध्यक्ष
2 Delhi Riots 2020: सीताराम येचुरी, योगेन्द्र यादव और अपूर्वानंद समेत 5 साजिशकर्ता नहीं- दिल्ली पुलिस ने किया साफ
3 VIDEO: उद्धव ठाकरे पर गरजे अर्नब गोस्वामी, डिबेट में बोले- मेरे सामने आने की आपकी हिम्मत नहीं; राउत को बताया ‘वॉकिंग-टॉकिंग कॉमेडी शो’
ये पढ़ा क्या?
X