scorecardresearch

‘या तो राम मंदिर पर साध लो चुप्पी, या फिर जाओ पाकिस्तान’, असदुद्दीन ओवैसी को शिया वक्फ बोर्ड चेयरमैन की नसीहत

रिजवी ने कहा कि अगर ओवैसी को कोई परेशानी है तो वह पाकिस्तान चले जाएं लेकिन देश के मुसलमानों को शांति से रहने दें। उन्होंने कहा कि ओवैसी को धर्म आधारित राजनीति बंद कर देनी चाहिए।

Assadudin Owaisi, Shia Waqf Board
शिया वक़्फ़ बोर्ड के चेयरमैन सैयद वसीम रिज़वी ने ओवैसी पर निशाना साधा है।(फाइल फोटो)

असदुद्दीन ओवैसी ने भूमि पूजन कार्यक्रम में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा था जिसके बाद शिया वक्फ बोर्ड चेयरमैन सैयद वसीम रिज़वी ने उनको जवाब दिया। ओवैसी के बयान पर जवाब देते हुए रिजवी ने वीडियो जारी किया है।

वीडियो में उन्होंने कहा कि या तो राम मंदिर पर वह चुप्पी साध लें या फिर पाकिस्तान चले जाएं। दरअसल, राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन में पीएम मोदी के शामिल होने पर AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि पीएम मोदी को कार्यक्रम में नहीं जाना चाहिए था वह देश के प्रधानमंत्री हैं किसी मजहब के नहीं। उन्होंने पांच अगस्त और 15 अगस्त को मिला दिया और स्वतंत्रता सेनानियों की तौहीन की है।

उनके इस बयान पर रिजवी ने कहा कि अगर ओवैसी को कोई परेशानी है तो वह पाकिस्तान चले जाएं लेकिन देश के मुसलमानों को शांति से रहने दें। उन्होंने कहा कि ओवैसी को धर्म आधारित राजनीति बंद कर देनी चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान में आतंकी संगठनों के प्रमुख मारे गए हैं, इन देशों को ओवैसी जैसे लोगों की जरूरत है। आप वहां चले जाइए यहां के मुस्लिमों को शांति से रहने दीजिए।

रिजवी ने आगे कहा कि मंदिरों को तोड़ने वाले तुम्हारे पूर्वज थे। जिनका हक तुमने छीना था, भारतीय संविधान ने उन्हें उनका हक दिला दिया। हम सब भारतीय संविधान के नियमों से बंधे हैं और उसी सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर निर्माण की राह दिखाई है। रिजवी ने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर भी निशाना साधा और कहा कि बोर्ड इस बात के इंतजार में है कि ‘हिंदुस्तान में एक बार फिर वो बाबरी फौज बनाएगा हिंदुस्तान में गृह युद्ध कराएगा और शीर्ष पर कब्जा जमा लेगा। उन्हें पता नहीं है हिंदुस्तान का मुसलमान ऐसा होने नहीं देगा। उनके मंसूबे कामयाब नहीं होंगे।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.