ताज़ा खबर
 

बिहार चुनाव: ‘स्वराज अभियान’ करेगा ‘ईमानदार उम्मीदवारों’ का समर्थन

इस साल के आखिर में होने वाले बिहार विधानसभा चुनावों में परोक्ष हिस्सेदारी का संकेत देते हुए आम आदमी पार्टी से निष्कासित नेताओं योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण द्वारा स्थापित समूह ‘स्वराज अभियान’ ....

Author Updated: July 6, 2015 12:58 PM

इस साल के आखिर में होने वाले बिहार विधानसभा चुनावों में परोक्ष हिस्सेदारी का संकेत देते हुए आम आदमी पार्टी से निष्कासित नेताओं योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण द्वारा स्थापित समूह ‘स्वराज अभियान’ ने कहा है कि वे भ्रष्ट और आपराधिक पृष्ठभूमि वाले प्रत्याशियों के खिलाफ अभियान चलाएंगे। संगठन के मुताबिक वह साफ रिकॉर्ड वाले निर्दलीय उम्मीदवारों का समर्थन करेगा। जो स्वराज अभियान के सदस्य भी हो सकते हैं।

स्वराज अभियान के नेता ने कहा- चूंकि हम अब तक राजनीतिक पार्टी नहीं बने हैं इसलिए हम बिहार चुनाव नहीं लड़ रहे। हालांकि हम चुनाव के दौरान सक्रिय जरूर रहेंगे। बिहार में हमारी राज्य समिति पहले से ही तैयारी कर रही है और उम्मीदवारों की बारीकी से जांच कर रही है। हम भ्रष्टाचार, खराब और आपराधिक छवि वाले उम्मीदवारों के खिलाफ अभियान चलाएंगे। कई उम्मीदवार अपने रिकॉर्ड के लिए कुख्यात हैं और हम उनके खिलाफ अभियान चलाएंगे।

बिहार के लिए जातिगत जनगणना के आंकड़े जारी किए जाएं: लालू यादव

यादव और भूषण के निष्कासन के बाद बने स्वराज अभियान ने अब तक खुद को राजनीतिक दल घोषित नहीं किया है। लेकिन वह कई मुद्दों खासकर किसानों से संबंधित मुद्दों को उठाता रहा है। किसानों से रिश्ता जोड़ने के लिए इसके सदस्यों ने ‘जय किसान यात्रा’ शुरू की है। संयोगवश अरविंद केजरीवाल की आप ने जद (एकी) के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को समर्थन देने की घोषणा की है।

बिहार में वाम दल एकजुट, जनता परिवार के साथ कोई गठबंधन नहीं

पार्टी ने हालांकि यह साफ किया कि वह बिहार चुनाव नहीं लड़ रही लेकिन वह निश्चित रूप से बिहार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ प्रचार करेंगे। माना जाता है कि इस चुनाव में भगवा पार्टी का चेहरा वही होंगे। स्वराज अभियान हालांकि 11-12 जुलाई को अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आयोजित करने वाली है। जिसमें बिहार चुनाव पर चर्चा के लिए राज्य संयोजकों और नेताओं को आमंत्रित किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories