ताज़ा खबर
 

मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिली SUV के मालिक की हुई पहचान, कहा- चोरी हो गई थी गाड़ी

मुंबई पुलिस के अनुसार जिस शख्‍स ने वो कार पार्क की थी, वह सीसीटीवी फुटेज में दिखाई दे रहा है। हालांकि उसने मास्‍क पहन रखा था और सिर को हूडी से ढक रखा था, इस वजह से उसकी पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस के मुताबिक, जिस कार से जिलेटिन की छड़ें बरामद हुईं, उसे कुछ वक्‍त पहले मुंबई के विक्रोली इलाके से चुराया गया था।

mukesh ambani ko dhamki, mukesh ambani ki latest news, mukesh ambani ka ghar news, mukesh ambani house in mumbai, mukesh ambani house car,पुलिस ने अंबानी के घर के बाहर सुरक्षाबल की तैनाती की है। (PC- PTI)

उद्योगपति मुकेश अंबानी के मुंबई स्थित घर एंटीलिया के बाहर एक SUV कार में विस्फोटक के साथ धमकी भरी एक चिट्ठी मिली थी। जिसके बाद मुंबई में हड़कंप मचा गया था और भारी मात्र में पुलिस ने अंबानी के घर के बाहर सुरक्षाबल की तैनाती की है। मुंबई पुलिस ने SUV के मालिक की हुई पहचान कर ली है। लेकिन इस कार के मालिक का कहना है कि उनकी कार कुछ दिन पहले चोरी हो गई थी और उन्होने एफआईआर भी दर्ज करवाई थी।

कार के मालिक का नाम मनसुख हिरेन है। मुंबई पुलिस के अनुसार जिस शख्‍स ने वो कार पार्क की थी, वह सीसीटीवी फुटेज में दिखाई दे रहा है। हालांकि उसने मास्‍क पहन रखा था और सिर को हूडी से ढक रखा था, इस वजह से उसकी पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस के मुताबिक, जिस कार से जिलेटिन की छड़ें बरामद हुईं, उसे कुछ वक्‍त पहले मुंबई के विक्रोली इलाके से चुराया गया था। गाड़ी का चेसिस नंबर बिगाड़ दिया गया था मगर पुलिस उसके असली मालिक तक पहुंचने में कामयाब रही है।

कार मुंबई में जहां-जहां से गुजरी है, पुलिस ने वहां की सीसीटीवी फुटेज भी इकट्ठा कर ली है। सीसीटीवी फुटेज की जांच में सामने आया है कि एंटीलिया के बाहर कार 24 फरवरी की रात करीब एक बजे पार्क की गई थी। इससे पहले ये कार 12:30 बजे रात को हाजी अली जंक्शन पहुंची थी और यहां करीब 10 मिनट तक खड़ी रही।

कार से 20 नंबर प्लेट मिली हैं। कई नंबर ऐसे हैं, जो मुकेश अंबानी के स्टाफ द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली कारों से मैच करते हैं। पुलिस के मुताबिक, नंबर प्लेट से अंदाजा लगाया जा सकता है कि मुकेश अंबानी के काफिले का पीछा किया गया होगा, वरना कारों का नंबर मैच करना आसान नहीं है।

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता डीसीपी एस. चैतन्य ने कहा कि बरामद की गई जिलेटिन की छड़ें असेम्बल्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस नहीं हैं। लेकिन यह कितनी खतरनाक हो सकती हैं, इसका पता पूरी जांच के बाद ही लग सकेगा। इस मामले में गामदेवी पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता की धारा 286, 465, 473, 120 (बी), 506 (2) और सेक्शन 4 के तहत मामला दर्ज किया गया है। राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख, मुंबई के पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह, गृह और खुफिया विभाग के शीर्ष अधिकारी खुद इस जांच की निगरानी कर रहे हैं।

Next Stories
1 भाजपा ने मुसलमान को बनाया जमाई राजा, पैनलिस्ट ने की टिप्पणी तो ऐंकर बोले- इनका फेडर डाउन करो
2 हिमाचल के गवर्नर के साथ हाथापाई, नेता प्रतिपक्ष के साथ चार विधायक सस्पेंड
3 देखें, रस्सी से ऑटो रिक्शा खींचते नज़र आए शशि थरूर, पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर अनोखा विरोध प्रदर्शन
ये पढ़ा क्या?
X