ताज़ा खबर
 

आठ किमी पीछा कर गौरक्षकों ने सरेआम सड़क पर किया तांडव, हथौड़े से सिर पर करता रहा वार, पुलिस बनी रही तमाशबीन

गौरक्षकों के एक दल ने गौमांस तस्करी के शक में आठ किलोमीटर तक एक गाड़ी का पीछा किया और उसे रोककर उसके ड्राइवर की बुरी तरह पिटाई कर दी। गौरक्षकों ने ड्राइवर लुकमान पर हथौड़ों से हमला किया और बीच सड़क पर घसीट-घसीट कर मारा।

Gurgaon,Cow Vigilante,Mob Attackगौरक्षकों के एक दल ने गौमांस तस्करी के शक में एक शख्स की बुरी तरह पिटाई कर दी।

देश की राजधानी से सटे शहर गुरुग्राम में एकबार फिर गौरक्षकों की हैवानियत देखने को मिली है। गौरक्षकों के एक दल ने गौमांस तस्करी के शक में आठ किलोमीटर तक एक गाड़ी का पीछा किया और उसे रोककर उसके ड्राइवर की बुरी तरह पिटाई कर दी। गौरक्षकों ने ड्राइवर लुकमान पर हथौड़ों से हमला किया और बीच सड़क पर घसीट-घसीट कर मारा। घायल होने के बावजूद उसे पीटते रहे।

इस दौरान वहां मौजूद न तो भीड़ ने उसे बचाने की कोशिश की और न ही हरियाणा पुलिस ने मामले में दखल दिया। पीड़ित पिटता रहा और पुलिस तमाशबीन बनी रही। लोगों ने इस घटना को अपने मोबाइल में कैद कर लिया। बाद में पुलिस पीड़ित को उसकी गाड़ी समेत आठ किलोमीटर पीछे बादशाहपुर गांव ले गई, जहां से गौरक्षकों ने उसका पीछा करना शुरू किया था। वहां पहुंचने पर फिर गौरक्षकों ने लुकमान की फिर से पिटाई शुरू कर दी।

वीडियो में साफ दिख रहा है कि चार-पांच लोगों ने लुकमान को घेर रखा है। कोई उसकी टांग पकड़ कर खींच रहा है तो कोई हथौड़े से लगातार उसके शरीर पर वार कर रहा है। बाद में पुलिस ने लुकमान को अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन उससे पहले पुलिस ने मांस को फॉरेंसिक लैब में भेजना उचित समझा। 2015 में नोएडा के दादरी में भी पुलिस ने मॉब लिंचिंग के आरोपियों को पकड़ने की बजाय मांस की जांच कराने में तत्परता दिखाई थी।

गुरुग्राम में शुक्रवार को सुबह 9 बजे के करीब जहां ये घटना घटी वहां कई मल्टीनेशनल कंपनियों के दफ्तर हैं। सड़क पर लोगों की अच्छी खासी भीड़ भी थी। गुरुग्राम पुलिस ने मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। गाड़ी के मालिक का कहना है कि गाड़ी में भैंस का मांस था। और वो पिछले 50 साल से इस कारोबार में हैं। पुलिस ने मामले में किसी तरह की टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। वीडियो में भी दिख रहा है कि पुलिस पिटाई की इस घटना को चुपचाप देख रही थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सुशांत की बहन की पीएम मोदी के नाम खुली चिट्ठी- मामले में दें दखल, हमें दिलाएं न्याय
2 निजी ट्रेनों का किराया जितना चाहें उतना रख सकते हैं ऑपरेटर्स, सरकार का कोई दख़ल नहीं- रेलवे ने किया साफ़
3 बंगाल में 1 दिन में सर्वाधिक 49 मौतें, 2,739 नये केस; महाराष्ट्र में 9,509 ताजा मामले, 260 की गई जान
ये पढ़ा क्या?
X