ताज़ा खबर
 

दिल्‍ली में जब चल रही थी Republic Day Parade तभी बाड़मेर में दिखी बलून जैसी चीज, वायुसेना ने मार गिराया

घटना बाड़मेड़ के गुगड़ी इलाके में हुई। जिस इलाके में संदिग्‍ध बलून देखा गया, वह पूरा इलाका गणतंत्र दिवस के मद्देनजर नो फ्लाई जोन घोषित किया गया था।

26 जनवरी को राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड में Mi-35 हेलिकॉप्‍टर्स, हरक्‍यूलिस और सी 17 ग्लोबमास्टर ने 500 किमी/घंटा की रफ्तार से करतब दिखाए।

बाड़मेर जिले के दो गांवों में मंगलवार को दो स्थानों पर रहस्यमय धमाके हुए। वायुसेना ने बताया कि उनके राडार पर गुब्बारेनुमा कुछ वस्तु के संकेत मिलने के बाद उसे एक विमान की मदद से बाड़मेर जिले की सीमा पर गिरा दिया गया। सूत्रों ने बताया कि वायुसेना ने इस संबंध में एक जांच दल का गठन कर दिया है। रक्षा सूत्रों ने राजधानी में बताया कि भारतीय वायुसेना के एक सुखोई 30 लड़ाकू विमान ने राजस्थान के बाड़मेर जिले में गुब्बारा आकार की एक अज्ञात चीज को मार गिराया। यह चीज वायुसेना के रडार पर दिखी थी और इसके बाद कार्रवाई की गई।

जिला पुलिस की ओर से जारी अधिकारिक बयान के अनुसार पचपदरा और बायतु कस्बे के कुछ गांवों में रहस्यमय धमाकों की आवाज सुनाई दी। बाड़मेर जिले के पचपदरा थाना के गुगड़ी गांव में किशोर सिंह ढाणी के पास ग्रामीणों ने तेज धमाके की सूचना पुलिस को दी। कुछ ऐसी ही सूचना जिले के बायतु थानान्तर्गत पनावड़ा गांव से भी मिली, जिसके बाद बालोतरा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जस्साराम बोस के नेतृत्व में पुलिस दलों को मौके पर भेजा गया।

बोस ने बताया कि मौके पर पुलिस को त्रिकोणनुमा धातु के चार-पांच टुकड़े मिले, लेकिन यह कोई बम या विस्फोटक पदार्थ नहीं है। बोस ने बताया कि इसके बारे में वायुसेना को सूचित किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने मौके पर धातु के टुकड़ों को एकत्र कर लिया है और इसे जांच के लिए वायुसेना को सौंपा जाएगा। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक धमाकों की आवाज करीब पांच किलोमीटर तक के क्षेत्र में सुनाई दी। किशोर सिंह ढाणी निवासी मनोजसिंह के अनुसार आसमान से कुछ चीज जमीन पर आते देखी जिसके बाद तेज धमाके की आवाज आयी। उसने बताया कि करीब पांच धमाकों की आवाज सुनाई दी। गौरतलब है कि यह पहला मौका नहीं है, जब इलाके में धमाकों की ऐसी घटना हुई है। बीते माह भी इस गांव से करीब 15 किलोमीटर दूर सिणलीजागीर गांव में ऐसे ही धमाकों की आवाज आयी थी। इसकी जांच वायु सेना कर रही है।

सूत्रों ने बताया कि उस चीज के मौसम संबंधी गुब्बारा होने की संभावना है। वायुसेना के एक प्रवक्ता के मुताबिक मंगलवार की सुबह साढ़े 10 बजे से 11 बजे के बीच गुब्बारे के आकार की एक अज्ञात चीज वायुसेना के रडार पर नजर आई। वायुसेना के एक विमान को भेजा गया जिसने इसे नीचे गिरा दिया। मामले में आगे जांच की जा रही है। यह घटना राजस्थान की राजधानी जयपुर से करीब 500 किलोमीटर दूर हुई जहां कुछ ग्रामीणों ने खबर दी है कि आसमान से धातु के कुछ टुकड़े गिरने की घटना हुई है। वायुसेना के अधिकारियों ने कहा कि गणतंत्र दिवस के कारण बल काफी चौकस था और वह चीज पश्चिमी सेक्टर में उड़ रही थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App