ताज़ा खबर
 

कुलभूषण जाधव के मसले पर सुषमा स्‍वराज ने शशि थरूर से मांगा सहयोग, कहा- ड्राफ्ट में मदद कीजिए

भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को पाकिस्‍तान में मौत की सजा सुनाए जाने पर भारत सरकार ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

Author नई दिल्‍ली | April 12, 2017 1:29 PM
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में कहा कि भारत यह सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा कि पाकिस्तान में भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को न्याय मिले।

भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को पाकिस्‍तान में मौत की सजा सुनाए जाने पर भारत सरकार ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में कहा कि भारत यह सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा कि पाकिस्तान में भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को न्याय मिले। उन्होंने कहा ‘‘हमारे पास यह कहने के अलावा और कोई विकल्प नहीं है कि अगर इस सजा की तामील की जाती है तो यह सुनियोजित हत्या की कार्रवाई होगी।’’

सुषमा ने कहा कि कुलभूषण जाधव पर जो आरोप लगाए गए हैं, वह मनगढ़ंत तथा हास्यास्पद हैं और उनके द्वारा गलत काम करने का कोई सबूत नहीं है। उन्होंने कहा कि जाधव ईरान में कारोबार करते थे और वहां से उनका अपहरण कर पाकिस्तान लाया गया। उन्हें बचाव का मौका दिए बिना मुकदमा चलाया गया। जाधव के मामले में सुषमा स्‍वराज ने कांग्रेस सांसद शशि थरूर से प्रस्‍ताव तैयार करने में मदद मांगी है। यह प्रस्‍ताव संसद के दोनों सदनों में पेश किया जाएगा।

संसद में बयान देने के बाद विदेश मंत्री सुषमा कांग्रेस सांसदों की तरफ गईं। वहां उन्‍होंने थरूर से प्रस्‍ताव तैयार करने का अनुरोध किया। इस पर शशि थरूर ने अपने दल के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे से अनुमति लेने के बाद खुशी-खुशी अनुरोध को मान लिया। थरूर ने बाद में एनडीटीवी ने बताया, ”यह ऐसा मामला है जो हम सब से जुड़ा हुआ है।” गौरतलब है कि पिछले साल भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2008 मुंबई हमले में आरोपी जकी उर रहमान लखवी की रिहाई की निंदा को लेकर ड्राफ्ट तैयार करने को कहा था।

जाधव के मामले में राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि जाधव को एक सुनियोजित तरीके से फंसाया गया है। यह विश्व मंच पर भारत की छवि खराब करने की कोशिश है। पाकिस्तान अब तक भारत के साथ जो कुछ करता आया है, उसका आरोप अब वह जाधव पर मढ़कर उन्हें फंसा रहा है। सुबह लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने पर भाजपा के किरीट सोमैया ने यह मामला उठाया और सरकार से पाकिस्तान की इस कार्रवाई की निंदा किए जाने की मांग की। कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि केंद्र सरकार इस मामले में चुप क्यों बैठी है? उन्होंने कहा कि विदेश मंत्री को जाधव को बचाने की कोशिश करनी चाहिए अन्यथा यह भारत की कमजोरी साबित होगा।

लोकसभा में सदस्यों द्वारा यह मुद्दा उठाए जाने पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ‘‘ पाकिस्तान द्वारा जाधव को फांसी की सजा सुनाए जाने पर पूरा देश न केवल चिंतित है बल्कि आक्रोशित भी है। सरकार इस सजा की कड़ी निंदा करती है जो कि कानून और न्याय के मूलभूत सिद्धांतों को ध्यान में रखे बिना सुनायी गयी है। कुलभूषण जाधव को बचाने के लिए भारत सरकार जो भी करना होगा, करेगी। कुलभूषण के साथ न्याय होगा।’’

बीजेपी यूथ विंग के नेता ने कहा- "ममता बनर्जी का सिर काटकर लाने वाले को 11 लाख रुपए दूंगा"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App