अगले 8-10 साल तक जीएसटी के दायरे में नहीं आ सकता पेट्रोल और डीजल- संसद में बोले सुशील मोदी

सुशील मोदी ने कहा कि मैं सदन से जानना चाहता हूं कि अगर पेट्रोल और डीजल को जीएसटी में डाल दिया गया तो होने वाले 2 लाख करोड़ रुपये के राजस्व के नुकसान की भरपाई कहा से की जाएगी?

bjp, congressबीजेपी नेता सुशील मोदी। (Indian Express)।

बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने संसद में कहा कि अगले आठ से दस साल तक पेट्रोल व डीजल को जीएसटी के दायरे में लाना संभव नहीं है। क्योंकि इससे राज्यों को लगभग दो लाख करोड़ रुपये का नुकसान होगा। राज्यसभा में सुशील कुमार मोदी ने कहा कि अभी पेट्रोल-डीजल पर 100 रुपये में 60 रुपये टैक्स होता है। जिसमें अभी लगभग 35 रुपये केंद्र और 25 रुपये राज्य सरकार का होता है।

सुशील मोदी ने कहा कि वो जीएसटी परिषद से जुड़े रहे हैं। अक्सर पेट्रोल-डीजल को जीएसटी में लाने की बात कही जाती है। लेकिन मैं सदन से जानना चाहता हूं कि अगर पेट्रोल और डीजल को जीएसटी में डाल दिया गया तो होने वाले 2 लाख करोड़ रुपये के राजस्व के नुकसान की भरपाई कहा से की जाएगी? उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार मिल कर 5 लाख करोड़ रुपये का राजस्व जुटाते हैं उसे कहा से भरा जाएगा?

बीजेपी नेता ने पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी के दायरे में लाने की मांग को अव्यवहारिक बताया। उन्होंने कहा कि अभी तो 8 से 10 साल तक मुझे इसकी कोई उम्मीद नहीं दिख रही है।

बिहार के पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि अभी जीएसीटी में कर की अधिकतम दर 28 प्रतिशत है। ऐसे हालात में पेट्रोल-डीजल को किसके अंतर्गत रखा जाएगा? कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स बताया जाता रहा है। लेकिन जीएसटी की बैठक में कभी भी कांग्रेस शासित राज्यों ने इसका विरोध नहीं किया।

गौरतबल है कि इससे पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि जीएसटी परिषद की अगली बैठक में पेट्रोल,डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने के लिए सुझाव पर चर्चा की जाएगी। वित्त मंत्री ने लोकसभा में वित्त विधेयक पर चर्चा करते हुए ये बात कही थी। बताते चलें कि जीएसटी के मामले में जीएसटी परिषद सर्वोच्च नीति निर्णय लेने वाली संस्था है। वित्त मंत्री जीएसटी परिषद का नेतृत्व करती है।

Next Stories
1 नीतीश पर बोले तेजस्वी- महिला विधायकों की साड़ी उतारी गई तो उन्हें मिला इंद्रिय सुख, निर्लज्ज कुमार ले रहे संगीत का आनंद
2 देखें, जब मंच पर मोदी के पैर छूने लगा कार्यकर्ता, उल्टा उसी के पैरों में गिरे प्रधानमंत्री
3 15 साल की किशोरी ने बॉयफ्रेंड संग मिलकर कर दी मां की हत्या, दोनों गिरफ्तार
यह पढ़ा क्या?
X