ताज़ा खबर
 

सीएम उद्धव पर अरनब गोस्वामी का निशाना बोले- सुन लो.. तुम चंद हफ्तों के लिए सत्ता में रहने वाले हो, निकाल रहे हो कंगना पर भड़ास

अरनब ने कहा कि यह हमला सुशांत सिंह राजपूत के लिए इंसाफ मांगने वालों पर था। महाराष्ट्र की सरकार ने जो कंगना के घर पर तोड़-फोड़ की वह बीएमसी की कार्रवाई नहीं थी वह बदले की कार्रवाई थी।

Sushant singh rajput suicide, sushant singh case, rhea, Arnab Goswami, uddhav thackeray, Kangana Ranaut, Republic TV, Republic TV Debate Show, Arnab Goswami debate, Arnab Goswami slams uddhav thackeray, Arnab Goswami republic, republic tv, republic bharat, Sushant Case, उद्धव ठाकरे, अर्णब गोस्वामी, कंगना रनौतअरनब गोस्वामी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा है।

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की अत्महत्या का केस अब महाराष्ट्र सरकार vs कंगना रनौत में बादल गया है। कंगना रनौत की शिवसेना नेता संजय राउत के साथ हुई जुबानी जंग के बाद बीएमसी ने उनके ऑफिस में अवैध कब्जा हटाने की कार्रवाई की। जिसके बाद बीएमसी ने उनके दफ्तर में दो घंटे तक तोड़फोड़ की। हालांकि बाद में हाई कोर्ट के आदेश के बाद कार्यवाही को रोक दिया गया। दफ्तर तोड़े जाने से नाराज़ रिपब्लिक टीवी के संपादक अरनब गोस्वामी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा है।

अपने शो ‘पूछता है भारत’ के दौरान अरनब ने ठाकरे पर निशाना साधते हुए कहा कि तुम चंद हफ्तों के लिए सत्ता में रहने वाले हो इसलिए भड़ास निकाल रहे हो। अरनब ने कहा कि यह हमला सुशांत सिंह राजपूत के लिए इंसाफ मांगने वालों पर था। महाराष्ट्र की सरकार ने जो कंगना के घर पर तोड़-फोड़ की वह बीएमसी की कार्रवाई नहीं थी वह बदले की कार्रवाई थी। पत्रकार ने कहा “उद्धव ठाकरे सुन लो, क्योंकि तुम चंद हफ्तों के लिए सत्ता में रहने वाले हो। अपनी भड़ास निकाल लो। मगर लोगों की भड़ास से डरो।” अरनब ने कहा कि आने वाला कल सत्या का होगा।

अरनब गोस्वामी ने कहा, ‘आप आज सत्ता में हो लेकिन आज से कुछ साल बाद लोग आपको काले अक्षरों में याद किया जाएगा। आपको लग रहा है कि आप बहुत बड़े हैं लेकिन यह बात लिखकर ले लो कि लोग वोटिंग के दौरान आप पर भड़ास निकालेंगे। महाराष्ट्र के लोग आपके खिलाफ हैं। शिवसैनिक भी आपके खिलाफ हैं। तुम्हारा पॉलिटिकल करियर खत्म है उद्धव ठाकरे। आपको सत्ता में बैठने का कोई अधिकार नहीं है यह बात खुद शिवसैनिक बोल रहे है। आपको यह बात सुनकर गुस्सा आ रहा है न? जो करना है कर लो फिर भी बोलूंगा।’

बता दें बीएमसी ने कंगना के मुंबई स्थित ऑफिस में अवैध निर्माण को लेकर 24 घंटे में दो नोटिस भेजे थे, जिसके बाद अवैध कब्जा हटाने की कार्रवाई की गई। दूसरे नोटिस के बाद बीएमसी की एक टीम जेसीबी मशीन, क्रेन और हथौड़े लेकर ऑफिस पहुंच गई और कंस्ट्रक्शन तोड़ा। कंगना के वकील रिजवान सिद्दीकी ने कहा कि बीएमसी ने जो नोटिस दिया, वो अवैध था। कर्मचारी अवैध तरीके से ही परिसर में दाखिल हुए। साफ समझ में आता है कि बीएमसी पहले से ही बिल्डिंग गिराने के लिए तैयार थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Kerala Karunya Plus Lottery KN-333 Today Result: लॉटरी नतीजे घोषित, यहां देखें 80 लाख रुपए तक के विजेताओं की सूची
2 राज्यसभा उपसभापति चुनाव: जुड़ने लगे संपर्कों के तार, नीतीश ने ओडिशा सीएम को हरिवंश के लिए किया फोन
3 नीरव मोदी के पक्ष में गवाही देंगे पूर्व सुप्रीम कोर्ट जज मार्कंडेय काटजू, कहा- भारत में नहीं मिलेगा न्याय
ये पढ़ा क्या?
X