ताज़ा खबर
 

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी का पलटवार- कांग्रेस ने भी की थी बड़ी सैन्य कार्रवाई, तो सबूत क्यों न दिखा पाई?

Surgical Strike Video (सर्जिकल स्ट्राइक विडियो): स्वामी के इस बयान के पहले कांग्रेस ने सर्जिकल स्ट्राइक के जारी हुए वीडियो को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला था। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि फौज के शौर्य का इस्तेमाल राजनीतिक रोटियां सेंकने के लिए न किया जाए।

भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी। (फोटोः पीटीआई)

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने सर्जिकल स्ट्राइक के मसले पर कांग्रेस पर पलटवार किया है। उन्होंने पूछा है कि अगर कांग्रेस ने भी बड़ी सैन्य कार्रवाई की थी, तो वह सबूत क्यों नहीं दिखा सकी? वह सबूत के तौर पर वीडियो न दिखा सकी, को क्या हम भी वैसा न करें? स्वामी के इस बयान के पहले कांग्रेस ने सर्जिकल स्ट्राइक के जारी हुए वीडियो को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला था। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि फौज के शौर्य का इस्तेमाल राजनीतिक रोटियां सेंकने के लिए न किया जाए।

स्वामी की हालिया टिप्पणी उसी का पलटवार मानी जा रही है। गुरुवार (28 जून) सुबह बीजेपी नेता बोले, “क्योंकि वे (कांग्रेस) इस तरह के वीडियो जारी नहीं कर सके, तो क्या हम भी वैसा न करें? तब (यूपीए काल में) कुछ हुआ ही नहीं था। ऐसे में कैसे हम किस तरह बीजेपी के पक्ष में लोगों की भावनाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं? अगर आपने भी बड़ी सैन्य कार्रवाई की थी, तो उसे छिपाया क्यों? यह बिल्कुल उसी पुरानी कहावत की तरह है- अंगूर खट्टे हैं।”

सर्जिकल स्ट्राइकः सुरजेवाला का वार- सेना का बलिदान वोट में न बदले मोदी सरकार

सुरजेवाला ने उनसे पहले कहा था कि मोदी सरकार सेना के बलिदान को वोट में बदलने की कोशिश न करे। सेना का साहस गर्व का विषय जरूर है, मगर इस पर राजनीतिक रोटियां न सेंकी जाएं। कांग्रेस के काल में भी सर्जिकल स्ट्राइक हुई थी। मगर उसका महिमामंडन नहीं किया गया।

2 साल बाद जारी हुआ VIDEO, देखें कैसे POK में घुस सेना ने मचाई थी तबाही

हालांकि, कांग्रेसी प्रवक्ता ने आगे बताया कि सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी करने की जरूरत नहीं थी, क्योंकि देश सेना का सम्मान करता है। यह पूछे जाने पर कि कुछ राजनीतिक दलों ने सवाल कर सबूत मांगा था, इस पर कांग्रेस प्रवक्ता टालमटोल कर गए।

क्या है पूरा मामलाः जम्मू-कश्मीर के उड़ी में 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक हुई थी। बुधवार (27 जून) की रात को टीवी न्यूज चैनलों पर इसका वीडियो पहली बार सामने आया। भारतीय सेना ने 29 सितंबर 2016 को लाइन ऑफ कंट्रोल पार कर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में आतंकी ठिकानों को नेस्तनाबूद किया था। हालांकि, अभी तक सेना ने इस वीडियो को लेकर कोई पुष्टि नहीं की है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गायत्री परिवार के मुखिया ने कहा- राहुल की शक्ल पसंद नहीं, शाह की तरह स्वागत नहीं करूंगा
2 कश्मीरी पंडितों को जबरन मुसलमान बनाता था औरंगज़ेब: आदित्य नाथ
3 Surgical Strike पर कांग्रेस का वार, रणदीप सुरजेवाला बोले- सेना के बलिदान को वोट में बदलने की कोशिश न करे सरकार
ये पढ़ा क्या?
X