ताज़ा खबर
 

जान पर खतरा या होगी रफ्तार कम: ट्रैक तैयार किए बिना आज से तेजस को दौड़ाएंगे प्रभु, किराया भी रखा है विमान जैसा

तेजस एक्सप्रेस पहली बार सोमवार को मुंबई से गोवा के रूट पर चलाई जाएगी

ट्रेन में एलसीडी स्क्रीन्स दी गई हैं। इन पर यात्री फिल्में भी देख सकेंगे। (Express photo )

सोमवार से नई लग्जरी ट्रेन तेजस एक्सप्रेस मुंबई से गोवा के रूट पर चलाई जाएगी। फ्लाइट के किराए की तरह ट्रेन के एग्जीक्यूटिव चेयर कार का किराया 2740 रुपए रखा गया है। सोमवार को इसकी पहली यात्रा होगी। हालांकि 200 किमी प्रति घंटा की रफ्तार रखने वाली इस ट्रेन के लिए ट्रैक को तैयार नहीं किया गया है। ट्रेन पुराने ट्रैक पर ही चलाई जाएगी। इस ट्रेन की घोषणा तो करीब एक साल पहले ही कर दी गई थी, लेकिन इसे किस रूट पर चलाया जाएगा यह अभी तक भी साफ नहीं हो पाया था। इसके अलावा जब पिछले हफ्ते यह ट्रेन कपूरथला से दिल्ली पहुंची थी, तो ट्रेन की 13 खिड़कियों के शीशे टूटे मिले। बताया जा रहा है कि कुछ अज्ञात लोगों ने चलती हुई ट्रेन पर पत्थर फेंके थे।

क्या है ट्रेन की खासियत:

इस ट्रेन में यात्रियों को कई सुविधाएं मिल सकेंगी। 20 डिब्बों वाले तेजस एक्सप्रेस में स्वचालित दरवाजे (ऑटोमैटिक डोर) और पूरी तरह बंद गैंगवे (डिब्बों को जोड़ने वाला रास्ता) होंगे। ट्रेन में एलसीडी स्क्रीन्स दी गई हैं। इन पर यात्री फिल्में भी देख सकेंगे और पैसेंजर लिस्ट भी देख सकेंगे। ट्रेन की सीटों को भी किसी विमान की बिजनेस क्लास सीटों की तरह बनाया गया है।

ट्रेन में कर्मचारी को बुलाने के लिए बटन की सुविधा भी होगी। ट्रेन के बाथरूम-टॉयलेट को भी काफी आधुनिक बनाने की कोशिश की गई है। कोच में बायो-टॉयलेट बनाए गए हैं। इसके अलावा ट्रेन में सेंसर वाला पानी का टैप दिया गया है। इसके अलावा इसमें टॉयलेट इंगेजमेंट बोर्ड, हैंड ड्रायर, वाई फाई सहित कई विशिष्ट सुविधाएं भी होंगी।

आग लगी तो रुक जाएगी ये ट्रेन

इससे पहले खबर आई थी कि इंडियन रेलवे, राजधानी एक्सप्रेस और आगामी तेजस एक्सप्रेस जैसी प्रमुख ट्रेनों में एक आधुनिक, उच्च स्तरीय अग्नि सूचना व प्रतिक्रिया प्रणाली लगाएगा। इसके लग जाने के बाद यदि ट्रेन में आग से जुड़ी कोई दुर्घटना होती है तो एक तय स्तर से ज्यादा धुंआ उठने पर ब्रेक अपने आप लग जाएंगे और ट्रेन स्वत: रुक जाएगी। इसके बाद प्रभावित डिब्बे में घोषणा हो जाएगी और हूटर बजने लगेंगे।

मोदी सरकार के 3 साल: 61 प्रतिशत लोगों का कहना- 'सरकार उम्मीदों पर खरी उतरी'

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App