ताज़ा खबर
 

डिबेट में बोलीं सुप्रिया श्रीनेत- अफ्रीका संगठन बना लड़ रहा लड़ाई, हमारे पीएम ने तो सूबों को यूं ही छोड़ दिया

दरअसल, एंकर ने उनसे सवाल किया था कि कांग्रेस शासित राज्यों में वैक्सीन की बर्बादी क्य़ों हो रही है। कांग्रेस अपना घर संभालती नहीं और दूसरे पर तोहमत लगाने लग जाती है। ये प्रैक्टिस कहां तक ठीक है।

न्यूज ऐंकर और बीजेपी नेता को सुपरिया श्रीनेत ने लगाई फटकार (फोटो सोर्स- एक्सप्रेस आर्काइव)

आज तक पर टीवी डिबेट में कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि जहां सारी दुनिया कोरोना से लड़ाई के लिए नए-नए तरीके अपना रही है, वहां भारत की सरकार केवल जुमलेबाजी में व्यस्त है। कोरोना से अफ्रीका संगठन बना लड़ाई लड़ रहा है पर हमारे पीएम ने तो सूबों को यूं ही छोड़ दिया। न तो वैक्सीन है और न ही मिलने की कोई आस।

दरअसल, एंकर ने उनसे सवाल किया था कि कांग्रेस शासित राज्यों में वैक्सीन की बर्बादी क्य़ों हो रही है। कांग्रेस अपना घर संभालती नहीं और दूसरे पर तोहमत लगाने लग जाती है। ये प्रैक्टिस कहां तक ठीक है। एंकर का ये भी कहना था कि कांग्रेस शासित राज्यों में कोरोना से लड़ाई के लिए क्या कोई नया तरीका इजाद किया गया है। कांग्रेस के सूबे भी दूसरों की तरह कोरोना की मार से कराह रहे हैं। अगर किसी सूबे ने कोई नजीर पेश की होती तो फिर अलग बात होती।

सुप्रिया ने कहा कि वैक्सीन बर्बादी का आरोप बेसिरपैर का है। सरकार ध्यान भटकाने के लिए सारी कवायद कर रही है। उनका कहना था कि कुछ वैक्सीन खराब होने के बावजूद यदि राष्ट्रीय स्तर पर बात करें तो राजस्थान की स्थिति काफी बेहतर है। वैक्सीन बर्बाद करने वालों में सबसे आगे झारखंड (37.3%) फिर छत्तीसगढ़ (30.2%) और तीसरे नंबर पर तमिलनाडु (15.5%) है। राजस्थान में वैक्सीन बर्बादी राष्ट्रीय औसत 6.3 फीसदी से काफी कम है।

गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत का आरोप है कि राजस्थान में वैक्सीन बर्बादी का खेल खेला जा रहा है। 17 जिलों में पांच से 40 फीसदी डोज बर्बाद हो रही है। दूसरी ओर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा इसके लिए केंद्र की नीति को दोषी ठहराते हैं। डोटासरा के मुताबिक गलत नीति के चलते सारी डोज का इस्तेमाल नहीं हो पाया।

डिबेट में बीजेपी प्रवक्ता ने कांग्रेस से सवाल पूछा कि मोदी सरकार पर उंगली उठाने वाली पार्टी ये बताए कि सोनिया के संसदीय क्षेत्र में कितने अस्पताल बनवाए गए। उनका कहना था कि ये लोग केवल राजनीति करने के लिए मोदी सरकार के खिलाफ बोलते रहते हैं।

Next Stories
1 जब सीबीएसई छात्रों के इंटरएक्टिव सेशन में लॉगिन कर आ पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी
2 राकेश पंडिता की हत्या पर बोले गौरव आर्या- जब पाकिस्तान के जवान नहीं मरेंगे तब तक नहीं होगा सुधार
3 झारखंड के हजारीबाग में दिखे एलियन का दावा निकला झूठा, जानिए क्या है पूरी सच्चाई
ये पढ़ा क्या?
X