ताज़ा खबर
 

VIDEO: ओवैसी बंधुओं को डिबेट में संबित पात्रा ने बताया ‘नियो जिन्ना’, बोले- बड़े मियां तो बड़े मियां, छोटे मियां सुभानअल्लाह…

ओवैसी बंधुओँ पर निशाना साधते हुए संबित पात्रा ने कहा कि, ये दोनों 'नियो जिन्ना' हैं। किस प्रकार हिंदू मुस्लिम करना, भारत को बंटवारे के रास्ते पर पुनः धकेलना, ये इनका काम है।

Author नई दिल्ली | Updated: December 3, 2019 10:29 PM
टीवी डिबेट में संबित पात्रा ने ओवैसी बंधुओं पर साधा निशाना। (फाइल फोटो)

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट फैसला सुना चुका है, लेकिन अभी भी इस फैसले को लेकर भड़काऊ बयानबाजी चल रही है। एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से नाखुशी जाहिर कर चुके हैं। अब एक जनसभा के दौरान असदुद्दीन ओवैसी के छोटे भाई अकबरुद्दीन ओवैसी ने भी कुछ ऐसा कह दिया है, जिससे लोगों की भावनाएं भड़क सकती हैं। आज तक टीवी चैनल पर इस मुद्दे पर एक डिबेट कार्यक्रम का आयोजन हुआ, जिसमें भाजपा नेता संबित पात्रा समेत कई पैनलिस्ट शामिल हुए।

जब कार्यक्रम के दौरान अकबरुद्दीन ओवैसी के बयान की वीडियो क्लिप सुनायी गई और इस पर संबित पात्रा से प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि ‘बड़े मियां तो बड़े मियां, छोटे मियां भी शुभानअल्लाह,’ ये दोनों ‘नियो जिन्ना’ हैं। किस प्रकार हिंदू मुस्लिम करना, भारत को बंटवारे के रास्ते पर पुनः धकेलना, ये इनका काम है।

भाजपा नेता ने कहा कि, जब ट्रिपल तलाक पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया था, तो असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि ‘मुसलमान कैसे निकाह करेगा, कैसे तलाक देगा, इसमें सुप्रीम कोर्ट का क्या है!’ अब जब राम मंदिर विवाद पर फैसला आया हो तो अब भी सबसे ज्यादा ओवैसी ब्रदर्स ही परेशान हैं।

बता दें कि अकबरुद्दीन ओवैसी ने अपने बयान में कहा कि “आज भी हम सुप्रीम कोर्ट को जा रहे हैं और किसी अन्य कोर्ट नहीं जा रहे हैं। कानून में एक गुंजाइश है, उस गुंजाइश को भी हम आजमा रहे हैं। इसके बाद जो भी हो फैसला, चाहे हमारे हक में आए या ना आए, हमको वो फैसला भी कबूल है, लेकिन ये भी हकीकत है कि कयामत तक वहां बाबरी मस्जिद ही रहेगी, चाहे वहां कुछ भी बन जाए। वो मस्जिद थी, मस्जिद है और मस्जिद ही रहेगी।”

संबित पात्रा ने कहा कि फिल्म का डायलॉग है कि तारीख पे तारीख, इसका सबसे बड़ा उदाहरण राम मंदिर केस था। 161 साल ये केस चला और अब इस पर फैसला आया है। बता दें कि राम मंदिर केस पर आज एक पुनर्विचार याचिका दाखिल हो गई है। वहीं ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड भी पुनर्विचार याचिका दाखिल करने पर विचार कर रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘छिपाने से हल न होगी दिक्कत, सर कभी तो बोलिए…सही काम में लगाएं ट्रोल आर्मी’, PM मोदी पर शत्रुघ्न का ‘हेड शॉट’
2 गांधी परिवार की सुरक्षा विवादः ‘आप करें तो रासलीला, कोई और करे तो कैरेक्टर ढीला’, मायावती के MP का Congress पर तंज
3 भारत से भाग निकले नित्यानंद ने बना लिया अपना देश, नाम दिया- कैलासा, रख रखा है खुद का पासपोर्ट भी!
जस्‍ट नाउ
X