ताज़ा खबर
 

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस ने एडिशनल सॉलिसिटर जनरल से कहा- सरकार से कहिए न्याय व्यवस्था की आलोचना बंद करें

न्यायमूर्ति माथुर ने कहा, अभी तक सरकार आपराधिक मामलों को जल्द निपटाने के लिए प्रभावी कदम नहीं उठा पाई है। लेकिन सरकार न्यायपालिका को देरी के लिए जिम्मेदार ठहराती है।

सुप्रीम कोर्ट ने अब 10 साल कैद की सजा दी है। (फोटो सोर्स : Express Group Photo)

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार पर तल्ख टिप्पणी की है। सरकार को फटकार लगाते हुए उच्चतम न्यायालय के जस्टिस ने कहा, आप अपना काम नहीं करते हैं, बस न्याय में देरी के लिए कोर्ट की अलोचना करते हैं। कोर्ट की यह फटकार क्रिमिनल केसेज को जल्द निपटाने के लिए उचित फैसले ने लेने के चलते सरकार को पड़ी। जस्टिस मदन बी माथुर ने एडिशनल सॉलिसिटर जनरल अमन लेखी से कहा, सरकार से कहिए न्याय व्यवस्था की आलोचना करना बंद करें।

गुरुवार को सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति माथुर ने कहा, अभी तक सरकार आपराधिक मामलों को जल्द निपटाने के लिए प्रभावी कदम नहीं उठा पाई है। लेकिन सरकार न्यायपालिका को देरी के लिए जिम्मेदार ठहराती है। उन्होंने एडिशनल सॉलिसिटर जनरल अमन लेखी से कहा, ‘आप अपना काम करते नहीं हैं और न्याय में देरी के लिए न्यायापालिका की आलोजना करते हैं। सरकार से कहिए कि न्याय व्यवस्था की आलोचना करना बंद करे’।

बता दें कि, आज ही सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई के आपसी झगड़े की भी सुनवाई हो रही है। आज उच्चतम न्यायालय तय करेगा कि आलोक वर्मा जांच एजेंसी के मुखिया पद पर बहाल होंगे या फिर छुट्टी पर ही रहेंगे। आलोक वर्मा ने सरकार के छुट्टी पर भेजने के फैसले को चुनौती दी है। चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस के एम जोसेफ़ की पीठ आलोक वर्मा मामले की सुनवाई करेगी। बेंच वर्मा के सीलबंद लिफाफे में दिए जवाब पर विचार कर सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 CBI केसः आलोक वर्मा के वकील- चीफ को छुट्टी पर भेजना गलत, SC बोला- आरोप लगें, तब भी?
2 Indian Express #StoriesOfStrength: मुंबई हमले की दसवीं बरसी, आम और खास, सबने एकजुटता को बताया आतंक का मुंहतोड़ जवाब
3 खालिस्तान समर्थक ने फेसबुक पर डाली सिद्धू के साथ तस्वीर, अकाली ने की बर्खास्त करने की मांग
ये पढ़ा क्या?
X