ताज़ा खबर
 

अर्नब गोस्वामी केस पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी- आत्महत्या के लिए उकसाने का केस नहीं बनता, HC ने जमानत ना देकर गलती की

अर्नब गोस्वामी को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अगले चार हफ्ते तक जमानत चलती रहेगी। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि हाई कोर्ट ने जमानत न देकर गलती की थी।

Arnab Goswami, maharashtra assembly, republic tv, poochta hai bharat,रिपब्लिक टीवी मीडिया नेटवर्क के एडिटर इन चीफ और मैनेजिंग डायरेक्टर अर्नब गोस्वामी।

दो साल पहले के सूइसाइड के लिए उकसाने के एक मामले में सुप्रीम कोर्ट ने रिपब्लिक टीवी के इडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी को जमानत दी थी। अब सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि जब तक हाई कोर्ट उनकी एफआईआर को रद्द करने वाली याचिका पर फैसला नहीं सुनाता यह जमानत मान्य रहेगी। जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और इंदिरा बनर्जी की बेंच ने 11 नवंबर को अर्नब को जमानत देने के कारणों की डीटेल देते हुए यह टिप्पणी की। कोर्ट ने कहा कि चार हफ्ते तक अर्नब जमानत पर रहेंगे और उसके बाद भी इस कोर्ट के दरवाजे खुले हैं।

बॉम्बे हाई कोर्ट में जब अर्नब की जमानत याचिका खारिज हो गई तो उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दी थी। बेंच ने प्रथम दृष्ट्या टिप्पणी करते हुए कहा था कि आत्महत्या के लिए उकसाने की कोई एफआईआर नहीं बनती है। बेंच ने कहा कि हाई कोर्ट को इस बारे में ठीक से विचार करना चाहिए था, एफआईआर को समझना चाहिए था। उसने अर्नब को जमानत न देकर गलत किया। अदालत ने कहा कि अगर कोई सरकार अपने व्यक्तिगत मतभेदों की वजह से किसी को टारगेट करती है तो कोर्ट का कर्तव्य है कि वह नागरिक के अधिकारों की सुरक्षा करे।

11 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि अलग विचारों की वजह से किसी भी व्यक्ति को इस तरह टारगेट नहीं किया जा सकता है। आप किसी को नापसंद कर सकते हैं या फिर असहमत हो सकते हैं लेकिन किसी को परेशान नहीं किया जा सकताहै। सुप्रीम कोर्ट ने सभी हाई कोर्ट को संदेश दिया था कि वे नागरिकों के अधिकारों की सुरक्षा करें।

बेंच ने FIR पर कहा, ‘जब बकाया राशि चुकाई जा चुकी है और कोई शख्स आर्थिक तंगी की वजह से आत्महत्या कर लेता है तो क्या कंपनी के हेड पर सूइसाइड के लिए उकसाने का आरोप लगा दिया जाएगा? जब किसी की एफआईआर रद्द करने की याचिका पेंडिंग है तो इस तरह जमानत देने से इनकार नहीं किया जा सकता है।’ अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार करने के बाद तलोजा जेल में रखा गया था। पुलिस इस मामले की जांच अभी कर रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 COVID-19 वैक्सीन की बढ़ी उम्मीद! PM मोदी इन तीन शहरों में जाकर लेंगे वैक्सीन की तैयारियों का जायजा
2 कृषि कानूनः किसान उपजाए, अंबानी-अडानी कमाई खाए- सिद्धू का ट्वीट, लोग करने लगे ऐसे कमेंट्स
3 लालू ही नहीं जेल मैनुअल तोड़ने पर विवादों में रहे RJD के शहाबुद्दीन, आरोप- सलाखों के पीछे लगवाते थे ‘दरबार’, पढ़ें इस बिहारी बाहुबली की कहानी
आज का राशिफल
X