ताज़ा खबर
 

30 जून का इतिहास: आज ही के दिन कॉमिक्स के पन्नों पर पहली बार नजर आया सुपरमैन, वर्ष का आधा सफर पूरा

1934 में आज ही के दिन जर्मनी के तानाशाह एडोल्फ हिटलर ने अपनी नेशनल सोशलिस्ट पार्टी में विरोधियों का सफाया किया था। 1990 में इसी तारीख को पूर्वी और पश्चिमी जर्मनी का विलय हुआ था।

Author नई दिल्ली | Published on: June 30, 2020 4:46 AM
Today's History, Supenma, Comics1938 में आज ही के दिन बच्चों की पसंदीदा कॉमिक्स के पन्नों पर सुपरमैन आया था।

30 June History (30 जून का इतिहास): साल के छठे महीने का अंतिम दिन यानी 30 जून आने के साथ ही हम इस वर्ष का आधा सफर पूरा कर चुके हैं। साल का 181वां दिन देश दुनिया के इतिहास में बहुत सी घटनाओं के साथ दर्ज है। वह 1938 में 30 जून का ही दिन था जब बच्चों के सबसे पसंदीदा कार्टून चरित्रों में शुमार सुपरमैन पहली बार कॉमिक्स के पन्नों पर नजर आया था। उसके बाद सुपरमैन दुनियाभर के बच्चों का पसंदीदा किरदार बन गया।

देश दुनिया के इतिहास में 30 जून की तारीख पर दर्ज अन्य महत्त्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:- 1855 : बंगाल के भोगनादिघी में सशस्त्र संथालों ने विद्रोह का बिगुल फूंक दिया।
1914 : महान स्वतंत्रता सेनानी दादाभाई नौरोजी का निधन।
1933 : फासीवाद के खिलाफ एंटवर्प में 50 हजार लोगों ने प्रदर्शन किया।
1934 : जर्मनी के तानाशाह एडोल्फ हिटलर ने अपनी नेशनल सोशलिस्ट पार्टी में विरोधियों का सफाया किया।

1938 : बच्चों का पसंदीदा कार्टून सुपरमैन पहली बार कॉमिक में नजर आया।
1947 : भारत के विभाजन की घोषणा के बाद बंगाल और पंजाब के लिए बाउंड्री कमीशन के सदस्यों की घोषणा।
1960: अमेरिका ने क्यूबा से चीनी का आयात बंद करने का फैसला किया।
1962 : रवांडा और बुरूंडी आजाद हुए।

1990 : पूर्वी और पश्चिमी जर्मनी का विलय।
1997 : हांगकांग से ब्रिटिश हुकूमत खत्म।
2000 : अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने अमेरिका में डिजिटल हस्ताक्षर को कानूनी मान्यता दी।
2005 : स्पेन ने समलैंगिक विवाह को कानूनी मान्यता दी।
2012 : मोहम्मद मुर्सी मिस्र के राष्ट्रपति बने।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सियासत की मार से कैसे मरेंगी टिड्डियांं
2 राजनीति: विवाद की जड़ में नदियां भी
3 चीन की विस्तारवादी नीति: कैसे धीरे-धीरे दबा ली 23 देशों की जमीन