ताज़ा खबर
 

माओवादियों का ऑडियो – आदिवासी महिलाओं की इज्‍जत लूटने का बदला था सुकमा हमला

सुकमा में सेंट्रल पुलिस रिजर्व फोर्स (CRPF) के जवानों पर हमला करने वाले माओवादियों ने एक ऑडियो जारी किया है।
24 अप्रैल को छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलवादियों ने CRPF की एक टीम पर हमला किया था।

सुकमा में सेंट्रल पुलिस रिजर्व फोर्स (CRPF) के जवानों पर हमला होने के बाद कथित माओवादियों का एक ऑडियो सामने आया है। ऑडियो के जरिए उन लोगों ने अपने हमले को सही ठहराने की कोशिश की है। क्लिप को कथित रूप से माओवादियों के राजनीतिक संगठन दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी ऑफ CPI (माओवादी) (DKSZC) द्वारा जारी किया गया है। ऑडियो में दावा किया गया है कि उन लोगों ने ही 11 मार्च और 24 अप्रैल को CRPF के जवानों पर हमले किए। ऑडियो के मुताबिक, ये हमले फासीवादी सरकार और ऑपरेशन ग्रीन हंट का जवाब देने के लिए किए गए थे।

ऑडियो 16 मिनट और 42 सेकेंड का है। इसको हिंदी में जारी किया गया है। ऑडियो में कहा गया है कि 2016 में सरकार ने उन लोगों ने कैडर्स पर हमले किए जिसमें छत्तीसगढ़ में छह लोगों के अलावा ओडिशा में भी 21 लोग मारे गए थे। उन लोगों का यह भी दावा है कि भारतीय फोर्स के लोग आदिवासी महिलाओं का यौन शोषण करते हैं। ऑडियो में कहा गया है कि यह हमला आदिवासी महिलाओं की गरिमा और सम्मान के लिए था। ऑडियो में बोल रहे शख्स ने खुद को DKSZC का प्रवक्ता ‘विकल्प’ बताया।

बता दें कि 24 अप्रैल को छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में नक्सलवादियों ने CRPF की एक टीम पर हमला किया था। उस हमले में 25 जवान शहीद और छह गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। खबरों के मुताबिक, लगभग 300 नक्सलवादियों ने मिलकर इस हमले को अंजाम दिया था। वहीं मौके पर कुल 99 जवान मौजूद थे। वे जवान उस इलाके में सड़क बनाने में मदद कर रहे थे। बताया गया कि नक्सलियों के पास रॉकेट लॉन्चर्स और AK47 जैसे हथियार भी थे।

देखिए संबंधित वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.