scorecardresearch

चीन पर लगाम के लिए 600 अरब डॉलर का प्‍लान: G7 नेताओं की तस्‍वीर शेयर कर सुब्रमण्‍यम स्‍वामी का तंज- फोटो खिंचवाने में आगे रहने वाला एक चेहरा नहीं द‍िख रहा?

अमेरिका के अनुसार इस ग्लोबल इन्फ्रास्ट्रक्चर के तहत 2027 तक 600 अरब डॉलर जुटाने का लक्ष्य रखा गया है। जो देश इस परियोजना में शामिल होंगे वो खुद कंपनियों से डील कर सकेंगे।

चीन पर लगाम के लिए 600 अरब डॉलर का प्‍लान: G7 नेताओं की तस्‍वीर शेयर कर सुब्रमण्‍यम स्‍वामी का तंज- फोटो खिंचवाने में आगे रहने वाला एक चेहरा नहीं द‍िख रहा?
जी-7 समिट में जर्मनी पहुंचे राष्ट्राध्यक्ष : Photo Credit- Reuters

जी-7 देशों ने चीन को काउंटर करने के लिए 600 अरब डॉलर का एक प्लान तैयार किया है। एएफपी की रिपोर्ट के मुताबिक जर्मनी में G-7 ने रविवार को चीन के बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (BRI) को टक्कर देने के लिए गरीब देशों की मदद के लिए 600 बिलियन डॉलर खर्च करने का ऐलान किया गया है। जी-7 समिट के दौरान रॉयटर्स की इस तस्वीर में इटैलियन प्रधानमंत्री मारियो ड्रैगी, कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों, जर्मन चांसलर ओलाफ स्कोल्ज़, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन, जापानी प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा, शामिल हैं ये सभी नेता जी-7 समिट में हिस्सा लेने के लिए ये सभी नेता जर्मनी पहुंचे हैं। इस तस्वीर को लेकर बीजेपी नेता सुब्रमण्य स्वामी ने नाम लिए बिना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है। स्वामी ने इस तस्वीर को ट्वीट करते हुए लिखा है, फोटो खिंचवाने में हमेशा आगे रहने वाला एक चेहरा इस तस्वीर में नहीं है।

अमेरिका के अनुसार इस ग्लोबल इन्फ्रास्ट्रक्चर के तहत 2027 तक 600 अरब डॉलर जुटाने का लक्ष्य रखा गया है। अमेरिका ने कहा, जो देश इस परियोजना में शामिल होंगे वो खुद कंपनियों से डील कर सकेंगे। वहीं बीआरआई प्रोजेक्ट को लेकर लगातार चीन पर इस बात के आरोप लगते रहे हैं कि वो इस प्रोजेक्ट में शामिल देशों की राजनीति, उनकी जमीन और उनके वित्तीय संस्थानों पर कब्जा जमाने की कोशिश करने लगता है। अब 600 अरब डॉलर के इस प्लान के आने के बाद गरीब देशों को इससे छुटकारा मिलेगा।

स्वामी के ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर आए ये कमेंट्स
सुब्रमण्यम स्वामी के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर काफी लोगों ने कमेंट किया। कुछ यूजर्स ने फवेर में तो कुछ ने इसके विरोध में कमेंट किए। आइए आपको दिखाते हैं कुछ ऐसे ही यूजर्स के कमेंट्स

@SanjayBana2345 नाम के ट्वटिर यूजर ने स्वामी को इस ट्वीट पर उनके अंदाज में ही बिना पीएम मोदी का नाम लिए जवाब देते हुए लिखा है, आपकी निगाहें हमेशा उसे ढूंढती रहती हैं, आपके दिमाग में सिर्फ वही है, आपके ट्वीट्स हमेशा उन्हें ही निशाना बनाते हैं, आप उनके खयालों से भरे हुए हैं। इस उम्र में आपके चारों ओर केवल राम होना चाहिए, राज्यसभा सीट किसी को स्वर्ग नहीं ले जाती है। जो राम नाम लेता है उसे ले जाती है।

वहीं एक @nviswam नाम के एक और यूजर ने स्वामी के इस ट्वीट पर पीएम पर तंज कसते हुए जवाब दिया है, ‘अगर आपको गर्मी बर्दाश्त नहीं है तो आप किचन से बाहर चले जाइए। देश के सबसे शक्तिशाली पद पर बैठे व्यक्ति को जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए क्योंकि उसका हर निर्णय और नीति करोड़ों लोगों के जीवन को प्रभावित करती हैं।’

@bndgormint नाम के एक और यूजर ने लिखा है,ये फेंकूचंद हैं … वैसे उपयोग का कोई मतलब भी नहीं है… देश का करोड़ो रुपया फेंकूचंद इनवेस्टमेंट में खर्च कर देता है … फिर कहता है भारत का डंका बज रहा है… अग्निवीरों को देने के लिए पैसे नहीं है इनके पास।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट