ताज़ा खबर
 

सुब्रमण्यन स्वामी बोले- इसी साल अक्टूबर तक बन जाएगा राम मंदिर, अयोध्या में मनाएंगे दिवाली

विश्व हिंदू परिषद के नेता अशोक स्वामी द्वारा आयोजित किए गए राष्ट्रीय सेमिनार में स्वामी को स्पीकर के रूप में आमंत्रित किया गया था। इस सेमिनार में स्वामी ने कहा, 'सारे सबूतों को कोर्ट में एक बार और देखने की जरूरत है। इसमें बहस की कोई जरूरत नहीं है।'

बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी (File Photo)

बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी का कहना है कि अयोध्या में इसी साल अक्टूबर तक राम मंदिर बन जाएगा और इस साल दिवाली वहीं सेलिब्रेट की जाएगी। शनिवार को दिल्ली यूनिवर्सिटी के कॉन्फ्रेंस सेंटर में स्वामी ने कहा, ‘भगवान राम हमारे राष्ट्र की अवधारणा के प्रतीक हैं। हम इस साल अयोध्या में ही दिवाली सेलिब्रेट करेंगे, क्योंकि हमें पूरी उम्मीद है कि इस मामले में जो सुनवाई हो रही है उसमें फैसला हमारे पक्ष में ही आएगा। कानूनी कार्यवाही शुरू हो चुकी है और हमारे द्वारा जो भी दस्तावेज और सबूत पेश किए गए हैं वह काफी ठोस और पुख्ता हैं।’

विश्व हिंदू परिषद के नेता अशोक स्वामी द्वारा आयोजित किए गए राष्ट्रीय सेमिनार में स्वामी को स्पीकर के रूप में आमंत्रित किया गया था। इस सेमिनार में स्वामी ने कहा, ‘सारे सबूतों को कोर्ट में एक बार और देखने की जरूरत है। इसमें बहस की कोई जरूरत नहीं है। राम मंदिर के निर्माण का काम अक्टूबर में शुरू हो जाएगा। हम इस दिवाली में वहां दिये जलाएंगे।’

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 24990 MRP ₹ 30780 -19%
    ₹3750 Cashback
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14845 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹0 Cashback

अयोध्या मामले पर खुलकर बोलने वाले बीजेपी नेता ने कहा, ‘राम मंदिर और बाबरी मस्जिद तर्क महज भूमि विवाद है और इसमें किसी भी तरह का धार्मिक विवाद नहीं है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सुप्रीम कोर्ट हमारे पक्ष में फैसला सुनाएगा।’ इसके अलावा स्वामी ने कहा कि इस्लाम मूर्ति पूजा का पक्षधर नहीं है, इसलिए मस्जिद को शिफ्ट किया जा सकता है। इसके अलावा उन्होंने बच्चों के पाठ्यक्रम में मौजूद इतिहास को बदलने की जरूरत होने की बात भी कही। उन्होंने कहा, ‘हिंदू देश की अवधारणा को समायोजित करने के लिए इतिहास के पाठ्यक्रम को बदलने की जरूरत है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App