ताज़ा खबर
 

कश्मीर में प्रदर्शन से निपटने के लिए सुब्रह्मण्यम स्वामी की सलाह, घटाई जाए घाटी की आबादी

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने मंगलवार को सुझाव दिया कि विरोध-प्रदर्शन से निपटने के लिए अशांत कश्मीर घाटी की आबादी कम कर देनी चाहिए और कश्मीरियों को तमिलनाडु में शरणार्थी शिविरों में भेज देना चाहिए।

Author नई दिल्ली | Updated: April 18, 2017 3:49 PM
mcd chunav, mcd chunav result, mcd election, Subramanian Swamy, Subramanian Swamy tweet, Subramanian Swamy attacks Kejriwal, श्री 420, Shree 420, mcd election result, mcd chunav result 2017, इलेक्शन रिजल्ट २०१७, MCD चुनाव रिजल्ट, mcd चुनाव रिजल्ट 2017, दिल्ली MCD चुनाव रिजल्ट, delhi mcd chunav result, delhi mcd chunav, mcd chunav delhi, mcd chunav natije, mcd election result 2017, delhi mcd election result 2017, delhi nagar nigam, delhi nagar nigam election result, chunav result, election result, elections result 2017राज्यसभा सांसद और भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी। (ANI)

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने मंगलवार को सुझाव दिया कि विरोध-प्रदर्शन से निपटने के लिए अशांत कश्मीर घाटी की आबादी कम कर देनी चाहिए और कश्मीरियों को तमिलनाडु में शरणार्थी शिविरों में भेज देना चाहिए। घाटी में सुरक्षा बलों के साथ यूनिवर्सिटी तथा कॉलेज के छात्रों की झड़प के एक दिन बाद स्वामी ने ट्वीट किया, “कश्मीर घाटी में विद्रोह से निपटने के लिए घाटी में आबादी कम कर देनी चाहिए, जैसा कश्मीर घाटी में हिंदुओं के साथ किया गया था। कुछ वर्षो तक उन्हें तमिलनाडु के शरणार्थी शिविरों में रखा जाना चाहिए।”

घाटी में अशांति चरम पर है और सरकार ने सभी स्कूलों व कॉलेजों को बंद करने का आदेश दिया है। ताजा विरोध-प्रदर्शन हालिया उपचुनाव में हिंसा को लेकर है, जिसमें सुरक्षाबलों की गोलीबारी में आठ लोगों की मौत हो गई। बडगाम जिले में मतदान केंद्रों में लोगों के घुसने के प्रयास को नाकाम करने को लेकर सुरक्षाबलों को गोलीबारी का सहारा लेना पड़ा था।

कुछ दिन पहले ही स्वामी की ओवैसी के बहस छिड़ गई थी। गौरतलब है कि पूरे देश में इस वक्त बीफ और गोहत्या को लेकर बहस छिड़ी हुई है। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद यूपी प्रशासन अवैध बूचड़खानों पर सख्त से सख्त कार्रवाई कर रहा है। यूपी को देखते हुए छत्तीसगढ़ और गुजरात में भी सरकार गोहत्या के खिलाफ गंभीर हो गई है। इन दोनों प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों ने अपने-अपने प्रदेश में गोहत्या करने वालों को मृत्युदंड देने तक की बात कह चुके हैं। इसी मुद्दे पर असद्दुद्दीन ओवैसी ने सवाल उठाया कि बीजेपी कुछ राज्यों में तो गाय को मां मानकर गोहत्या को गैरकानूनी बता रही है वहीं नॉर्थ इस्ट के राज्यों में धड़ल्ले से गोमांस बिक रहा है। ओवैसी के सवाल का जवाब देते हुए बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि गोहत्या पर ओवैसी हमें आदेश नहीं दे सकते, बीजेपी अपने हिसाब से काम कर रही है।

दरअसल एक हिंदी न्यूज़ चैनल पर गोहत्या को लेकर डिबेट चल रही थी। डिबेट में भारतीय जनता पार्टी की तरफ से सुब्रमण्यम स्वामी मौजूद थे तो दूसरी तरफ AIMIM के अध्यक्ष असद्दुद्दीन ओवैसी। ओवैसी ने गोहत्या पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए बीजेपी से पूछा कि मणिपुर में भी बीजेपी की सरकार है फिर वहां पर गोहत्या अपराध क्यों नहीं है। बीजेपी नेता स्वामी को चेतावनी देते हुए ओवैसी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी जिस तरह यूपी, गुजरात, महाराष्ट्र जैसे राज्यों में गोहत्या को रोकने के लिए काम कर रही है उस तरह मणिपुर में क्यों नहीं कर रही है?

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 लंदन में गिरफ्तारी के 3 घंटे बाद ही बिजनेसमैन विजय माल्या को मिल गई बेल
2 सोनू निगम विवाद पर हाजी अली दरगाह का बयान- ध्वनि प्रदूषण मानकों का पालन करते हैं, इस्लाम में दूसरों को तकलीफ देने की मनाही
3 राष्ट्रपति बनने के 3 महीने बाद डोनाल्ड ट्रंप ने भारत भेजा पहला बड़ा अफसर, पीएम नरेंद्र मोदी ने की मुलाकात
यह पढ़ा क्या?
X