ताज़ा खबर
 

मुकुल रॉय भी चले गए…राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद की कीमत नहीं कि कोई भी लफंगा आए तो उसे दे दो…बोले बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा "भाजपा ने कई लोगों को तृणमूल से लिया अब सब वापस भाग रहे हैं। धरना कर रहे हैं कि हमें वापस लो। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष थे मुकुल रॉय वो भी चले गए। आपके राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद की कीमत नहीं कि कोई भी लफंगा आए तो उसे दे दो।"

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि चीन पर सरकार के एक्शन से वे खुश नहीं है। (express file)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कटु आलोचक और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने ईटीवी भारत को दिये गए एक इंटरव्यू में बंगाल चुनाव में हार और उसके बाद तृणमूल कांग्रेस (TMC) में नेताओं की वापसी को लेकर जमकर हमला बोला है।

ईटीवी न्यूज़ की वरिष्ठ संवाददाता अनामिका रत्ना से बात करते हुए सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा “भाजपा ने कई लोगों को तृणमूल से लिया अब सब वापस भाग रहे हैं। धरना कर रहे हैं कि हमें वापस लो। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष थे मुकुल रॉय वो भी चले गए। आपके राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद की कीमत नहीं कि कोई भी लफंगा आए तो उसे दे दो। कार्यकर्ताओं को आप वैल्यू नहीं करोगे तो ऐसा ही हाल होगा। कार्यकर्ता बिना पैसा काम करता है और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के ज्यादा लोग हैं। वे वहां लोकल शाखा चलाने वाले लोग हैं। उन्हें सब पता है वहां के बारे में। उनकी उपेक्षा करोगे तो कभी नहीं जीतोगे।”

यह पूछे जान पर कि क्या 2024 में आपकी सरकार बनेंगी, क्या आप राहुल गांधी को एक ताकतवर विपक्ष के रूप में देखते हैं और तीसरे मोर्चे भी सामने आ रहा है। उससे कोई फर्क पड़ेगा? इसपर भाजपा नेता ने कहा “दिखिए 3 साल बाकी हैं। कुछ भी हो सकता है, 1 महीने में क्या क्या घटना हो जाती हैं। क्या पता राहुल गांधी और सोनिया गांधी दोनों जेल चले जाये नेशनल हेराल्ड में तो फिर क्या होगा।”

स्वामी ने कहा “ये केस तो मैंने किया है, सरकार नहीं कर रही मैं कर रहा हूं और मैं इन्हें छोड़ने वाला नहीं हूं। मैंने जयललिता को जेल भेज दिया। शशीकला को जेल भेज दिया। चिदंबरम को जेल भेजने वाला हूं। 106 दिन तो वैसे रह कर भी आए हैं। इतना दूर अभी देखने कि ज़रूरत नहीं है। लेकिन 2024 में हमारी सरकार निश्चित बनेगी।”

सुब्रमण्यम स्वामी ने आगे कहा कि चीन पर सरकार के एक्शन से वे खुश नहीं है। मोदी सरकार ने चीन को भारतीय सीमा के अंदर क्यों आने दिया? इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के नेताओं के साथ बैठक पीएम मोदी ने अमेरिका के दबाव में की।

Next Stories
1 उन्नाव पिटाई कांडः CDO ने पत्रकार को मिठाई खिला रफा-दफा किया मामला, एक दिन पहले दौड़ा-दौड़ा पीटा था
2 Jagannath Puri Rath Yatra: पुरी में कोरोना कर्फ्यू के बीच तो अहमदाबाद में पाबंदियों के बीच निकली
3 पेट्रोल के बढ़ते दाम लोगों को “उकसा” रहे- बोले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी
आज का राशिफल
X