ताज़ा खबर
 

धर्म परिवर्तन करवाने वालों पर सख़्त योगी सरकार, कहा- NSA लगाया जाए

गिरफ्तार लोगों को मंगलवार को लखनऊ की एक स्थानीय अदालत में पेश किया गया जहां अदालत ने आरोपियों को सात दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और धर्म परिवर्तन करवाने के आरोप में गिरफ्तार आरोपी (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

धर्म परिवर्तन करवाने के मामले को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार ने सख्त आदेश दिए हैं। इस मामले में उत्तर प्रदेश के आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) द्वारा दो लोगों को गिरफ्तार करने के एक दिन बाद, सरकार ने आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (NSA) और उत्तर प्रदेश गैंगस्टर और असामाजिक गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत केस दर्ज करने का आदेश दिया है।

सरकार ने पुलिस को आरोपियों के वित्तीय लेनदेन की जांच करने और उनकी संपत्तियों को जब्त करने का भी निर्देश दिया है। बताते चलें कि सोमवार को, एटीएस ने मुफ्ती काजी जहांगीर कासमी और मोहम्मद उमर गौतम को गिरफ्तार किया था और उन पर और उनके सहयोगियों पर एक संगठन, इस्लामिक दावा सेंटर (आईडीसी) चलाने का आरोप लगाया था, जो कथित तौर पर बड़े पैमाने पर धर्मांतरण कर रहा था। उमर गौतम ने 1980 के दशक में कथित तौर पर इस्लाम धर्म अपना लिया था।

गिरफ्तार लोगों को मंगलवार को लखनऊ की एक स्थानीय अदालत में पेश किया गया जहां अदालत ने आरोपियों को सात दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है। मामले पर अतिरिक्त महानिदेशक, कानून और व्यवस्था, प्रशांत कुमार ने कहा कि हमें गिरफ्तार किए गए लोगों के सहयोगियों का पता लगाना अभी बाकी है। उन्होंने कहा कि गिरफ्तार किया गया व्यक्ति महिलाओं के साथ-साथ बेरोजगार, गरीब और शारीरिक रूप से अक्षम लोगों को भी निशाना बनाता था।

इधर विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने मंगलवार को कहा कि केंद्र सरकार को देश में अवैध धर्मांतरण रोकने के लिये कानून बनाने पर विचार करना चाहिए। विहिप ने कहा कि अब धर्मांतरण के ऐसे स्वरूप की व्यापक जांच के लिए आयोग बनाना चाहिए जिसका कार्यक्षेत्र संपूर्ण देश हो । विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ. सुरेन्द्र जैन ने अपने बयान में कहा, ‘‘इसकी व्यापक जांच के लिए नियोगी कमीशन जैसा जांच आयोग बनाया जाना चाहिए।’’

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को अवैध धर्मांतरण रोकने के लिए एक कानून बनाने पर विचार करना चाहिए। जैन ने कहा कि धर्मांतरण के कारण देश विभाजन की एक त्रासदी झेल चुका है और जेहादी आतंकवाद की पीड़ा का सामना कर रहा है।उन्होंने कहा कि अब भारत को इस षड्यंत्र से मुक्त कराने का समय आ गया है।

Next Stories
1 जेडीयू विधायक बोले- पीएम की कुर्सी के दावेदार हैं नीतीश कुमार, दिल्ली पहुंचे सीएम ने कहा- निजी काम से आया हूं
2 भारत में अमेरिका से भी महंगी वैक्सीन, प्राइवेट अस्पतालों को वैक्सीन देने पर सवाल, सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मामला
3 रिकॉर्ड वैक्सिनेशन के छपे पोस्टर-बैनर, फिर भी गिर गया टीकाकरण का आंकड़ा
ये पढ़ा क्या?
X