ताज़ा खबर
 

स्टिंग ऑपरेशन में फंसे जदयू विधायक, दो लाख रुपए रिश्वत लेते नज़र आए

स्टिंग ऑपरेशन में जदयू के कुर्था से निवर्तमान विधायक सत्यदेव सिंह को एक व्यक्ति से दो लाख रुपये रिश्वत के तौर पर लेते हुए दिखाया गया..

Author पटना | October 25, 2015 10:54 PM
स्टिंग ऑपरेशन में जदयू के कुर्था से निवर्तमान विधायक सत्यदेव सिंह को एक व्यक्ति से दो लाख रुपये रिश्वत के तौर पर लेते हुए दिखाया गया।

बिहार के पूर्व मंत्री अवधेश प्रसाद कुशवाहा के बाद रविवार को एक अन्य स्टिंग ऑपरेशन में जदयू के कुर्था से निवर्तमान विधायक सत्यदेव सिंह को एक व्यक्ति से दो लाख रुपये रिश्वत के तौर पर लेते हुए दिखाया गया।

सोशल मीडिया पर जारी उक्त स्टिंग ऑपरेशन में सत्यदेव सिंह को पटना में विधायक क्वार्टर की छत पर एक अज्ञात व्यवसायिक प्रतिष्ठान के मालिक से जदयू के सत्ता में आने पर उन्हें मदद करने के एवज में दो लाख रुपये रिश्वत के तौर पर लेते हुए दिखाया गया है। वीडियो में सत्यदेव को उक्त व्यवसायी से पांच लाख रुपये की मांग करते हुए दिखाया गया है। जहानाबाद के कुर्था विधानसभा क्षेत्र में बिहार विधानसभा के दूसरे चरण के मतदान गत 16 अक्तूबर को संपन्न हो चुका है।

वीडियो को लेकर प्रतिक्रिया देने के लिए सत्यदेव हालांकि उपलब्ध नहीं हो सके, पर जदयू के राष्ट्रीय महासचिव के सी त्यागी ने फोन पर बताया कि इस मामले में जानकारी इकट्ठा की जा रही है और उसकी जांच होगी। त्यागी ने कहा कि भ्रष्टाचार के मामले में उनकी पार्टी की ‘जीरो टालेरेंस’ की नीति है। पूर्व में एक स्टिंग ऑपरेशन के दौरान मंत्री को पैसा लेते हुए दिखाए जाने पर उन्हें पद से हटा दिया गया था।

बिहार के पूर्व मंत्री अवधेश प्रसाद कुशवाहा के सोशल मीडिया पर एक स्टिंग ऑपरेशन के दौरान मुंबई के एक व्यवसायी को मदद करने के एवज में 4 लाख रुपये रिश्वत लेते हुए दिखाए जाने पर उन्हें मंत्री पद से हटाए जाने के साथ गत 13 अक्तूबर को पूर्वी चंपारण जिला के पिपरा विधानसभा क्षेत्र से उनकी जगह जदयू ने पुराने समता पार्टी नेता कृष्णचंद्र सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया।

अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी आर लक्ष्मणन ने कहा कि पटना के जिलाधिकारी मामले की जांच करेंगे और रिपोर्ट के आधार पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। पटना के वरीय पुलिस अधीक्षक विकास वैभव ने कहा कि उन्हें इस संबंध में कोई शिकायत नहीं प्राप्त हुई है और शिकायत प्राप्त होने पर मामले की जांच की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories