ताज़ा खबर
 

स्टिंग सीडी प्रकरण: कांग्रेस ने की अमित शाह पर कार्रवाई की मांग

उत्तराखंड कांग्रेस ने रविवार को देहरादून के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) से मुलाकात कर उनसे हाल में सामने आए स्टिंग सीडी प्रकरण की जांच कर अमित शाह समेत भाजपा...

Author देहरादून | August 31, 2015 9:12 AM
कांग्रेस ने अमित शाह समेत भाजपा के चार वरिष्ठ नेताओं और एक पत्रकार के खिलाफ राज्य सरकार को साजिशन बदनाम करने के लिए कार्रवाई करने की मांग की।

उत्तराखंड कांग्रेस ने रविवार को देहरादून के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) से मुलाकात कर उनसे हाल में सामने आए स्टिंग सीडी प्रकरण की जांच कर अमित शाह समेत भाजपा के चार वरिष्ठ नेताओं और एक पत्रकार के खिलाफ राज्य सरकार को साजिशन बदनाम करने के लिए कार्रवाई करने की मांग की।

देहरादून एसएसपी पुष्पक ज्योति को सौंपे पत्र में प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट की अगुवाई वाले इस प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि झूठे और मनगढंत स्टिंग ऑपरेशन के माध्यम से उत्तराखंड की हरीश रावत सरकार की छवि खराब करने के लिए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, उपाध्यक्ष श्याम जाजू, केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, प्रदेश अध्यक्ष तीरथ सिंह रावत के अलावा पत्रकार अशोक पाण्डेय सामूहिक और व्यक्तिगत दोनों रूप से जिम्मेदार हैं।

उनके खिलाफ समुचित धाराओं में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कर उन्हें दंडित किया जाना चाहिए। पत्र में कहा गया है कि कांग्रेस सरकार की लोकप्रियता से हतोत्साहित होकर इन व्यक्तिओं ने पूर्व साजिश के तहत एकराय होकर षड्यंत्र रचा और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रावत के खिलाफ जनमानस के मन में घृणा, विद्वेष और राजद्रोह जैसी स्थिति उत्पन करने के लिए एक कतई झूठा एवं गलत स्टिंग आपरेशन किया।

जुलाई के अंत में सामने आए इस स्टिंग आपरेशन में मुख्यमंत्री रावत के पूर्व सचिव और वरिष्ठ आइएएस अधिकारी मोहम्मद शाहिद को निजी शराब व्यवसायियों के साथ कथित सौदेबाजी करते दिखाए जाने के बाद प्रदेश की सियासत में तूफान में आ गया। दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन में केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस स्टिंग आपरेशन की सीडी जारी की। इसके बाद जहां भाजपा ने नैतिक आधार पर मुख्यमंत्री रावत से इस्तीफा देने और पूरे प्रकरण की जांच सीबीआइ से कराने की मांग की वहीं सत्ताधारी कांग्रेस और सरकार ने सीडी की प्रमाणिकता पर सवाल खड़े करते हुए भाजपा से जांच के लिए जरूरी मूल सीडी और उसे बनाने में प्रयुक्त हुए उपकरण उपलब्ध कराने को कहा।

पुलिस अधिकारी को सौंपे पत्र में कांग्रेस ने आरोप लगाया कि उक्त व्यक्तियों ने सूचना प्रोद्यौगिकी का दुरुपयोग कर बिना किसी तिथि, स्थान और समय का वर्णन करते हुए एक कथित स्टिंग आपरेशन किया। मीडिया को उसकी सीडी जारी कर पूरे देश में उत्तराखंड की कांग्रेस सरकार को बदनाम करने के साथ ही प्रदेश के जनमानस को गलत तरीके से भ्रमित कर उन्माद फैलाने का भी काम किया। पत्र में कहा गया है कि गत 20 अगस्त को उपरोक्त समस्त व्यक्तियों से किए गए लिखित अनुरोध के बाद भी उनके द्वारा अब तक फोरेसिंक जांच के लिए सीडी की मूल प्रति उपलब्ध नहीं कराई गई है। भाजपा उपाध्यक्ष जाजू ने 23 अगस्त को यह स्वीकार किया है कि स्टिंग आपरेशन की सीडी की मूल प्रति भाजपा के पास है।

कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि भाजपा नेताओं ने सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की अवहेलना करते हुए गलत तरीके से स्टिंग आपरेशन को अंजाम दिया और सीडी को तत्काल जारी न कर एक सुनियोजित साजिश के तहत निर्धारित समय पर जारी किया। कांग्रेस ने पुलिस अधिकारी से मांग की कि स्टिंग ऑपरेशन की मूल सीडी और उसके निर्माण में प्रयुक्त उपकरण बरामद करवाकर इनकी फारेंसिक जांच करवाएं और सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की अवहेलना करने और साजिश के तहत राज्य सरकार को बदनाम करने के जुर्म में उपरोक्त सभी व्यक्तियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करें।

* पांच भाजपा नेताओं और एक पत्रकार पर कार्रवाई के लिए एसएसपी को सौंपा पत्र
* स्टिंग आपरेशन के जरिए हरीश रावत सरकार को बदनाम करने का आरोप लगाया

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App