ताज़ा खबर
 

दिग्गज कारोबारी लक्ष्मी मित्तल के भाई विदेश में गिरफ्तार, फर्जीवाड़े का है आरोप

मामला उत्तरपूर्वी शहर के लुकावाट में एक कोकिंग प्लांट को चलाने से जुड़ा है। इस प्लांट को प्रमोद साल 2003 से मैनेज कर रहे, जिसमें करीब एक हजार कर्मचारी काम करते हैं।

Author नई दिल्ली | July 24, 2019 11:00 AM
दिग्गज कारोबारी लक्ष्मी मित्तल के छोटे भाई प्रमोद मित्तल। (फोटो सोर्स रॉयटर्स)

दिग्गज कारोबारी लक्ष्मी मित्तल के छोटे भाई प्रमोद मित्तल को कथित फर्जीवाड़े और अपनी ‘पॉवर के गलत’ इस्तेमाल के आरोप में बोसनिया से गिरफ्तार किया गया है। एक प्रॉसिक्यूटर ने इस बात की जानकारी दी है। जानकारी के मुताबिक मामला उत्तरपूर्वी शहर के लुकावाट में एक कोकिंग प्लांट को चलाने से जुड़ा है। इस प्लांट को प्रमोद साल 2003 से मैनेज कर रहे हैं, जिसमें करीब एक हजार कर्मचारी काम करते हैं।

प्रॉसिक्यूटर काजिम सर्हार्तिक ने पत्रकारों को बताया, ‘पुलिस ने GIKIL पर्यवेक्षी बोर्ड के अध्यक्ष प्रमोद मित्तल को गिरफ्तार किया है।’ GIKIL की स्थापना 2003 में हुई थी और इसे प्रमोद मित्तल की ग्लोबल स्टील होल्डिंग्स और एक लोकल पब्लिक कंपनी (KHB) द्वारा सह-प्रबंधित किया जा रहा है।

प्रमोद मित्तल के अलावा कंपनी के दो अन्य अधिकारियों (जनरल मैनेजर प्रमेश भट्टाचार्य और पर्यवेक्षी बोर्ड के सदस्य) को भी गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार कारोबारी और अधिकारी संगठित अपराध, विशेष रूप से शक्ति और आर्थिक अपराधों के दुरुपयोग के संदिग्ध हैं। प्रॉसिक्यूटर काजिम सर्हार्तिक ने बताया अगर संदिग्ध दोषी करार दिए जाते हैं तो उन्हें 45 साल तक जेल की सजा मिल सकती है।

जानकारी के मुताबिक कंपनी से जुड़े चौथे शख्स के खिलाफ भी गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया गया है। जिसे संगठित अपराध के संगठन का सदस्य माना गया है। संदिग्धों को बुधवार (24 जुलाई 2019) को न्यायधीश के सामने पेश किया जाएगा। Zurnal.info वेबसाइट की खबर के मुताबिक माना जाता है कि संदिग्धों ने कम से कम 28 लाख डॉलर का गबन किया है। Zurnal.info लागातर पूरे मामले पर नजर बनाए हुए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App