ताज़ा खबर
 

120 मुसाफिरों को ले जा रहा था स्‍पाइस जेट का विमान, पाकिस्तान के दो एफ-16 लड़ाकू विमानों ने घेर लिया

जब विमान की घेराबंदी की गई तो यात्रियों द्वारा फाइटर प्लेन के पायलटों को देखा जा सकता था। विमान में सवार एक यात्री ने बताया कि मैं पाकिस्तानी पायलटों को देख रहा था।

Author नई दिल्ली | Updated: October 17, 2019 6:20 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो: फाइनेंशियल एक्सप्रेस

पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों ने पिछले महीने 120 मुसारिफों को ले जा रहे स्पाइस जेट विमान की घेराबंदी की थी। इस दौरान करीब एक घंटे तक पैसेंजर विमान की घेराबंदी की गई। इसके लिए पाकिस्तान ने लड़ाकू विमान एफ-16 का इस्तेमाल किया। भारत-पाकिस्तान के बीच बालाकोट एयरस्ट्राइक और आर्टिकल 370 को हटाए जाने के बाद तनाव का माहौल है।

खास बात यह है कि ये घटना ऐसे समय की है जब पाकिस्तान ने भारत के लिए अपने एयरस्पेस को खुला रखा था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक स्पाइसजेट का एसजी-21 विमान 23 सितंबर को दिल्ली से काबुल की तरफ जा रहा था। इस दौरान जब विमान पाकिस्तानी एयरस्पेस में दाखिल हुआ था उसे घेर लिया गया।

इस दौरान पायलट को विमान की ऊंचाई कम करने और विमान की डिटेल्स के साथ उन्हें रिपोर्ट करने के लिए कहा गया। वहीं स्पाइसजेट विमान के कैप्टन ने एफ16 लड़ाकू विमान के पायलटों से कहा कि ‘यह एक इंडियन कमर्शियल एयरक्राफ्ट है जो कि यात्रियों लाता ले जाता है। विमान अपने शेड्यूल के मुताबिक काबुल जा रहा है।’

बताया जा रहा है कि जब विमान की घेराबंदी की गई तो यात्रियों द्वारा फाइटर प्लेन के पायलटों को देखा जा सकता था। विमान में सवार एक यात्री ने बताया कि मैं पाकिस्तानी पायलटों को देख रहा था। वह हमारे पायलट को विमान की ऊंचाई कम करने के लिए इशारा कर रहे थे। बताया जा रहा है कि इस दौरान सभी पैसेंजरों को विमान की खिड़कियों को बंद करने के निर्देश दिए गए थे।

सूत्रों के अनुसार, स्पाइसजेट विमान का कोड ‘एसजी’ था। जबकि पाकिस्तान एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) को भ्रम हो गया है और उसने कोड को ‘आईए’ समझ लिया। एटीसी ने इस कोड को इंडियन आर्मी (IA) या इंडियन एयरफोर्स समझ लिया। हालांकि गलती का पता चलने के बाद लड़ाकू विमानों ने स्पाइसजेट विमान को पाकिस्तानी एयरस्पेस पार करवाया। बता दें कि हर फ्लाइट का एक कोड होता है और इसी कोड को समझने में पाक एटीसी ने गड़बड़ी की। बहरहाल पाकिस्तान की इस गलती और चूक से बड़ा हादसा हो सकता था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 चुनाव से हफ्ते भर पहले बीजेपी ने सावरकर को भारत रत्न देने का वादा क्यों किया? समझिए सियासी दांव-पेंच
2 हरियाणा चुनाव 2019: बाबा रामदेव बोले- मनोहर लाल खट्टर साहब बिना विवाह किए हमारी जमात के हैं
3 छात्र जीवन में ही वीडी सावरकर ने साथियों संग किया था मस्जिद पर हमला, हिंदुओं के रुख से थे खफा