ताज़ा खबर
 

VVIP सुरक्षा में लगी एसपीजी को चाहिए हेलिकॉप्‍टर्स, इस वजह से हिचक रही मोदी सरकार

एसपीजी चाहती है कि वीवीआईपी लोगों की सुरक्षा के लिए नया हेलिकॉप्टर खरीदा जाए, जिसमें लेटेस्ट फीचर्स हों। लेकिन सरकार इसमें रूचि नहीं दिखा रही है।

तस्वीर का उपयोग प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। ( Express Photo by Prem Nath Pandey)

स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) वीवीआईपी लोगों की सुरक्षा के लिए एक बार फिर हेलिकॉप्टर खरीदने का प्रस्ताव लेकर सरकार के पास पहुंची है। लेकिन सरकार इसमें रूचि नहीं दिखा रही है। सरकार को वीवीआईपी अगस्टा वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर खरीद से जुड़े विवाद का डर सता रहा है। हिन्दुस्तान टाईम्स की रिपोर्ट में ऐसी जानकारी सामने आयी है। 2014 लोकसभा चुनाव से पहले वीवीआईपी हेलीकॉप्टर खरीद मामले में घूस लेने का आरोप लगने के बाद मनमोहन सिंह की यूपीए सरकार बैकफुट पर चली गई थी। डैमेज कंट्रोल के लिए तत्कालिन सरकार ने आखिरकार इटालियन फर्म फिनमेक्निकिका से 12एडब्लू 101 अगस्टा वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर अधिग्रहण को रद कर दिया था। गड़बड़ी करने और घूस लेने के आरोप में एक वायु सेना के एक पूर्व चीफ को गिरफ्तार किया गया था। आजाद भारत के इतिहास में यह पहला मामला था जब सेना के ऐसे किसी उच्च रैंक वाले अधिकारी को गिरफ्तार किया गया था। बता दें कि एसपीजी प्रधानमंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिजनों सहित अतिविशिष्ट लोगों की सुरक्षा में तैनात रहती हैं।

सुरक्षा मंत्रालय और भारतीय वायु सेना को यह उम्मीद है कि प्रधानमंत्री और सरकार के अन्य वरिष्ठ सदस्य यह तय करेंगे कि किस तरह के हेलिकॉप्टर की खरीद होनी चाहिए। नाम न छापने की शर्त पर एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि, “इस मामले में सभी लोग यह चाह रहे हैं कि अगला व्यक्ति कदम उठाए।” एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, “हमने एसपीजी से कहा है कि वे यह बताएं कि उन्हें किस तरह का हेलिकॉप्टर चाहिए। इस मामले को लेकर कम से कम एक बार एसपीजी और भारतीय वायुसेना के बीच बैठक हुई है।”

एडब्ल्यू 101 हेलीकॉप्टरों की खरीद में भारतीय वायु सेना ने यह बताया था कि हेलिकॉप्टर में कौन-कौन सी खूबी होनी चाहिए। फिनमेक्निकिका के मामले में पूर्व एयरफोर्स चीफ पर यह आरोप लगा था कि उन्होंने विशेष कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए एयरक्राफ्ट की खूबियों में बदलाव कर दिया था। इसी आरोप में उन्हें गिरफ्तार किया गया था। हालांकि, इस बार खरीद को लेकर अभी तक एयरफोर्स द्वारा किसी तरह का जवाब नहीं दिया गया है।

वर्तमान में वीवीआईपी लोगों को मिलिट्री के हेलिकॉप्टर रूस निर्मित एमआई 17 वी5एस और एमआई 17एस पर ले जाया जाता है। एमआई 8 हेलिकॉप्टर जिनका पहले उपयोग किया जाता था, अब वे चलन से बाहर हो चुके हैं।  एमआई 17 वी5एस और एमआई 17एस को विशेष तौर पर वरिष्ठ सरकारी व्यक्तियों के लिए तैयार किया गया है, लेकिन इसमें कई ऐसे फीचर नहीं है, जो एसपीजी चाहती है। ऐसे में एसपीजी चाहती है कि वीवीआईपी लोगों की सुरक्षा के लिए नया हेलिकॉप्टर खरीदा जाए, जिसमें लेटेस्ट फीचर्स हों।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 रात 2 बजे सरकार ने बनाया अंतरिम सीबीआई निदेशक, जानिए कौन हैं एम नागेश्वर राव 
2 CBI Feud Updates: राकेश अस्‍थाना केस के खिलाफ जांच कर रहे अधिकारियों का ट्रांसफर
3 आयुष्‍मान योजना: लखनऊ मेडिकल कॉलेज स्‍टाफ ने कहा- जाओ पहले मोदी से पैसा लेकर आओ
ये पढ़ा क्या?
X