ताज़ा खबर
 

15 विधायकों के सहारे यूपी फतह की तैयारियों में जुटी AAP, ‘दिल्ली मॉडल’ के सहारे बीजेपी को हराने की बना रही रणनीति

संजय सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी इस बात के लिए आश्वस्त है कि वर्ष 2022 में होने वाला उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ा जाएगा।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: February 23, 2020 2:22 PM
आम आदमी पार्टी ‘आप’ की नजर अब उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव पर। (file)

दिल्ली में लगातार दूसरी बार धमाकेदार जीत से उत्साहित आम आदमी पार्टी ‘आप’ की नजर अब उत्तर प्रदेश पर टिक गई है और राज्य के अगले विधानसभा चुनाव में पार्टी ”दिल्ली विकास मॉडल” पर वोट मांगेगी। दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद रविवार को पहली बार लखनऊ के दौरे पर आए आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय सिंह ने ”भाषा” से बातचीत में कहा कि राजनीतिक लिहाज से सबसे संवेदनशील राज्य उत्तर प्रदेश में पार्टी अपनी जमीन तैयार करने में जुट गई है।

संजय सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी इस बात के लिए आश्वस्त है कि वर्ष 2022 में होने वाला उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ा जाएगा। भाजपा की तमाम जहरीली बातों और हथकंडों के बावजूद दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार की लगातार तीसरी बार सत्ता में वापसी बेहद सुखद है। इससे संकेत मिलते हैं कि जनता अब नफरत की राजनीति के बजाय विकास देखना चाहती है।

सिंह ने बताया कि दिल्ली विधानसभा में चुनाव जीते आम आदमी पार्टी के 15 विधायक मूल रूप से उत्तर प्रदेश के निवासी हैं और वह प्रदेश में पार्टी की जमीन तैयार करेंगे। इन विधायकों को चुनाव में खास जिम्मेदारी दी जाएगी। संगठन को बूथ स्तर तक मजबूत किया जाएगा। इसके लिए स्थानीय कोर मुद्दों पर काम किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश के अगले विधानसभा चुनाव में दिल्ली के विकास मॉडल के नाम पर वोट मांगेगी। भाजपा ने वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में ”गुजरात मॉडल” का धोखा देकर जनता से वोट लिए थे लेकिन गुजरात मॉडल दरअसल झूठ के सिवा कुछ नहीं था। हाल के विधानसभा चुनाव में दिल्ली की जनता ने यह जाहिर कर दिया है कि दिल्ली मॉडल ही विकास का असल मॉडल है।

आप के राज्यसभा सांसद ने कहा कि पार्टी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। पार्टी कार्यकर्ता घर, घर जाकर लोगों को दिल्ली के विकास मॉडल की जानकारी देंगे। साथ ही उनके लिए अपनी योजनाओं के बारे में बताएंगे। उन्होंने बताया कि आम आदमी पार्टी प्रदेश में बड़े पैमाने पर सदस्यता अभियान शुरू करेगी।

आप प्रवक्ता ने कहा कि जनता अब यह जान चुकी है कि नफरत की राजनीति से किसी का कोई भला नहीं होता। जनता ने जिस भाजपा पर विश्वास किया उसने उसे छला है। लोगों को अब इसका बखूबी एहसास भी होने लगा है। सिंह ने प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि प्रदेश में विकास और सुशासन के तमाम दावों के विपरीत गुंडाराज, अराजकता व्याप्त है और लोकतंत्र का गला घोटने की सरकारी स्तर पर साजिशें की जा रही हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसान, नौजवान, महिलाएं तथा समाज का हर वर्ग बेहद परेशान है, मगर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विकास की झूठी बातें कहकर अपनी पीठ थपथपाने में व्यस्त हैं। सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश लोकतंत्र का गला घोटने की प्रयोगशाला बन चुका है। अब प्रदेश की जनता विकास की राजनीति चाहती है और साफ-सुथरा नेतृत्व देने में सिर्फ आम आदमी पार्टी ही सक्षम है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 ‘इंडिया फर्स्ट’ कहने वाले पीएम मोदी ‘अमेरिका फर्स्ट’ के आगे क्यों हैं चुप? ट्रम्प के आगे H-1B वीजा का मुद्दा तो उठाएंगे न? कांग्रेस का हमला
2 ‘नया भारत पुराने ढर्रे पर चलने को तैयार नहीं’, मन की बात में बोले पीएम मोदी, कहा- बच्चों को रॉकेट लॉन्चिंग दिखाने के लिए प्रिंसिपल बनाएं योजना
3 पीएमओ में अपने आदमी रखवाना चाहते थे प्रशांत किशोर, 2011 में रियल एस्टेट कारोबारी ने करवाई थी नरेंद्र मोदी से मुलाकात