ताज़ा खबर
 

सपा नेता बोले- मुसलमानों को न बताएं कितने बच्चे पैदा करने हैं, संविधान ने दिया है अधिकार

मोहम्मद अरशद खान ने कहा, ‘‘मुसलमानों को ये सलाह देने की आवश्यकता नहीं है कि उनके कितने बच्चे होने चाहिए क्योंकि इस मामले में संविधान ने उन्हें अधिकार दिया है।’’

Author संत कबीर नगर (उप्र) | Updated: April 24, 2016 5:06 AM
pakistan, senate, parliament, muslim, religion, change in religion, illegalचित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मोहम्मद अरशद खान ने शनिवार (23 अप्रैल) को कहा कि मुसलमानों को ये सलाह देने की जरूरत नहीं है कि उनके कितने बच्चे होने चाहिए, क्योंकि ये अधिकार उन्हें संविधान प्रदत्त है। खान ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘मुसलमानों को ये सलाह देने की आवश्यकता नहीं है कि उनके कितने बच्चे होने चाहिए क्योंकि इस मामले में वे स्वतंत्र हैं। संविधान ने उन्हें इस संबंध में अधिकार दिया है।’’

उनसे केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के इस सुझाव पर सवाल किया गया था कि भारत को सभी धर्मों में दो बच्चों का नियम लागू करने की आवश्यकता है। खान ने ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाने के बारे में कहा कि भारत माता की जय और मादरे वतन हिन्दुस्तान एक ही बात हैं इसलिए उन्हें इसमें कोई आपत्ति नहीं है।

उन्होंने कहा कि सपा सरकार के कार्यकाल में किसी निर्दोष मुसलमान को आतंकी गतिविधियों के आरोप में जेल नहीं भेजा गया। साथ ही उम्मीद जतायी कि उकी पाटी आगामी विधानसभा चुनाव में 300 से अधिक सीटें जीतेगी। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यदि मस्जिदों का इस्तेमाल राजनीतिक गतिविधियों के लिए होता है तो इसमें कुछ गलत नहीं है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अमेरिका-ईरान साथ हो सकते हैं तो भारत-पाक क्यों नहीं : महबूबा
2 जारी हुआ 7 घंटे 20 मिनट का ट्रेलर, 720 घंटे की फिल्‍म साल 2020 में होगी रिलीज
3 नीतीश की शराबबंदी ने 13 साल से अलग रह रहे पति-पत्नी को फिर से मिलाया, दोबारा बजी शहनाई
ये पढ़ा क्या?
X