ताज़ा खबर
 

UP में एक ढोंगी बाबा क्या कम थे जो दूसरे भी प्रवचन देने आ गए, CM योगी व अमित शाह पर सपा सुप्रीमो का तंज

SP Chief Akhilesh Yadav: CM योगी व अमित शाह पर तंज कसते हुए सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में एक बाबा कम थे क्या जो दूसरे बाबा अपना प्रवचन देने आ गये। इन ढोंगी बाबाओं ने जिस तरह जनता के विश्वास के साथ छल किया है।

सपा नेता अखिलेश यादव (फोटो सोर्स- विशाल श्रीवास्तव-इंडियन एक्सप्रेस )

SP Chief Akhilesh Yadav: सपा सुप्रीमो और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने मंगलवार (21 जनवरी) को गृहमंत्री अमित शाह और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला बोला। अखिलेश ने ट्वीट ने कर कहा कि प्रदेश में एक बाबा कम थे क्या जो दूसरे बाबा अपना प्रवचन देने आ गए। बता दें कि आज लखनऊ में नागरिकता कानून (CAA) के सर्मथन में शाह एक रैली को संबोधित करने आए थे। उन्होंने मंच से अखिलेश, मायावती समेत समूचे विपक्ष पर एक बाद एक कई हमले किए थे।

अखिलेश यादव का ट्वीट: सपा प्रमुख ने अमित शाह की रैली के बाद अपने ट्वीट में लिखा-  “प्रदेश में एक बाबा कम थे क्या जो दूसरे बाबा अपना प्रवचन देने आ गये। इन ढोंगी बाबाओं ने जिस तरह जनता के विश्वास के साथ छल किया है उसकी वजह से CAA पर समर्थन के लिए इनकी झोली में जनता कुछ भी नहीं डालेगी। जनता झूठे बाबा से यही कहेगी…  बाबा इस बार जाना… तो लौट कर कभी न आना।”

Hindi News Live Hindi Samachar 21 January 2020: देश-दुनिया की तमाम बड़ी खबरे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अमित शाह का अखिलेश पर हमला: इससे पहले शाह ने सीएए, एनआरसी और एनपीआर की मुखालफत कर रहे सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को ज्यादा न बोलने की सलाह देते हुए कहा था कि ”अखिलेश बाबू आप ज्यादा न बोलो तो अच्छा है। मंच पर आकर पांच लाइन बोलकर दिखाओ। कभी-कभी पढ़ लिया करो। पढ़ने से फायदा होता है।”

सीएम योगी का बयान: इसके पूर्व, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रैली को सम्बोधित करते हुए कहा था कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आने वाले शरणार्थियों को नागरिकता देने का काम वर्ष 1947 के बाद से शुरू हो जाना चाहिये था मगर कांग्रेस यह नहीं कर पायी। उन्होंने सीएए के खिलाफ लखनऊ तथा प्रदेश के कई अन्य स्थानों पर जारी प्रदर्शन की तरफ इशारा करते हुए कहा कि पैसा देकर धरना दिलवाया जा रहा है। देश के दुश्मनों की भाषा बोलने का काम कांग्रेस, सपा और अन्य विपक्षी कर रहे हैं। हम इस वक्त मौन नहीं रह सकते। द्रौपदी ने अपने चीरहरण के वक्त भरी सभा में सवाल किया था कि इस पाप का दोषी कौन है। तब कोई नहीं बोल सका था। हम सब कांग्रेस, सपा के पाप के साथ भागीदार नहीं बन सकते। हम इसका विरोध करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 कन्नूर यूनिवर्सिटी के दो छात्रों को NIA की हिरासत में भेजा, नक्सलियों से संपर्क रखने के आरोप में पुलिस ने किया था गिरफ्तार
2 विपक्ष पर भड़के सीएम योगी, कहा- CAA के खिलाफ दुष्प्रचार द्रौपदी के ‘चीरहरण’ जैसा; अमित शाह ने कही यह बात
3 पुल के नीचे मिली TMC नेता की लाश, हावड़ा में पार्टी समर्थकों ने कर दिया चक्का जाम