ताज़ा खबर
 

शिवपाल का छलका दर्द, बोले- मुलायम को चिढ़ाने के लिए अखिलेश ने मेरी कुर्सी छिनी, शकुनि बने रामगोपाल

अखिलेश ने अपने से बड़ों का आदर करना छोड़ दिया। सबसे बड़ी बात उन्होंने सपा के लाखों कार्यकर्ताओं की भावनाओं का भी ख्याल नहीं रखा।

Lok Sabha Election 2019: शिवपाल सिंह यादव फोटो सोर्स- एएनआई

Loksabha election 2019: प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया (पीएसपी-एल) प्रमुख शिवपाल यादव ने समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर एक टीवी चैनल से बातचीत में जमकर निशाना साधा। शिवपाल यादव ने अखिलेश पर सपा को कमजोर करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सपा-बसपा का गठबंधन लोकसभा चुनाव में बुरी तरफ फेल होगा। बसपा सुप्रीमो मायावती का भरोसा नहीं किया जा सकता।

उन्होंने राम गोपाल यादव को समाजवादी पार्टी का शकुनी करार देते हुए कहा कि उन्होंने ही अखिलेश को मेरे खिलाफ भड़काया। अखिलेश ने अपने से बड़ों का आदर करना छोड़ दिया। सबसे बड़ी बात उन्होंने सपा के लाखों कार्यकर्ताओं की भावनाओं का भी ख्याल नहीं रखा।

यह पूछे जाने पर कि अखिलेश और आपके बीच किस बात को लेकर असहमति थी? तो उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह यादव को चिढ़ाने के लिए अखिलेश ने मेरी कुर्सी छिनी थी। लेकिन मुझे पूरा भरोसा है कि पीएसपी इस चुनाव में बेहतरीन प्रदर्शन करेगी। बता दें कि पीएसपी उत्तर प्रदेश की 60 सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ रही है जबकि 11 राज्यों में भी अपने प्रत्याशी उतारने जा रही है।

मालूम हो कि 1 जनवरी 2017 को आयोजित राष्ट्रीय सम्मेलन द्वारा अखिलेश को पार्टी का अध्यक्ष चुना गया था। उससे पहले पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव पार्टी अध्यक्ष थे। इस दौरान हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी के अंदर काफी मतभेद सामने आए। पार्टी में एकजुटता न होने के कारण विधानसभा चुनाव में सपा को सिर्फ 22 फीसदी वोट के साथ 47 सीटों पर ही जीत हासिल कर सकी। वहीं भाजपा ने 403 में से 312 सीटें जीतकर भारी बहुमत हासिल किया। जिसके बाद पार्टी में मतभेद और बढ़  गए और शिवपाल ने सपा से अलग होकर अपनी एक नई पार्टी गठित की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App