ताज़ा खबर
 

सोनिया ने ठोकी राहुल गांधी की पीठ, नेतृत्व क्षमता को सराहा

कांग्रेस संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए सोनिया गांधी ने बुधवार को अपने बेटे और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि राहुल संगठन में नई ऊर्जा लेकर आए हैं और उन्होंने ऐसी टीम बनाई है जिसमें अनुभव और युवा जोश का सही तालमेल है।

सोनिया गांधी और राहुल गांधी फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

भाजपा का गढ़ माने जाने वाले मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में पार्टी की जीत का हवाला देकर कांग्रेस नेता सोनिया गांधी ने बुधवार को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की नेतृत्व क्षमता की जमकर तारीफ की और केंद्र की राजग सरकार की कड़ी आलोचना की। कांग्रेस संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए सोनिया गांधी ने बुधवार को अपने बेटे और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि राहुल संगठन में नई ऊर्जा लेकर आए हैं और उन्होंने ऐसी टीम बनाई है जिसमें अनुभव और युवा जोश का सही तालमेल है। उन्होंने प्रतिद्वंद्वियों का सामने से डटकर मुकाबला किया है। उन्होंने कहा कि हम नए आत्मविश्वास और निश्चय के साथ आगामी लोकसभा चुनाव में उतर रहे हैं। राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में हमारी जीत ने नई आशा दी है। इस बैठक में अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिाकार्जुन खड़गे, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद सहित तमाम पार्टी नेता शामिल हुए। सोनिया ने कहा कि हमारे प्रतिद्वंद्वियों को पहले अजेय बताया जाता था। कांग्रेस अध्यक्ष ने सामने से डटकर उनका मुकाबला किया। हम वहां जीते जिन्हें उनका गढ़ माना जाता था।

राजग सरकार पर निशाना साधते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि हमारे लोकतांत्रिक गणराज्य, धर्मनिरपेक्ष गणराज्य की नींव पर योजनाबद्ध तरीके से हमले हो रहे हैं। यपीए अध्यक्ष ने कहा कि संस्थाओं को बर्बाद किया जा रहा है, राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को निशाना बनाया जा रहा है और असहमत लोगों को दबाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच साल देश के लिए बेहद आर्थिक और सामाजिक दबाव वाले रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर कहा कि उन्होंने अथक परिश्रम किया है। वह उन राजनीतिक दलों से भी संपर्क कर रहे हैं, जिनका देश के प्रति दृष्टिण हमारे जैसा है, जो पूर्ण सामाजिक न्याय के साथ तेज आर्थिक विकास चाहते हैं, जो किसानों और खेत मजदूरों, महिलाओं और युवाओं, संगठित और असंगठित क्षेत्रों के कर्मचारियों के कल्याण हेतु हमारे एजंडे को मानते हैं।

यूपीए अध्यक्ष ने कहा कि देश की जनता बुद्धिमान है और वह जानती है कि भूल-भुलैया, मंच प्रबंधन और प्रबंधन के टोटके जिम्मेदार और जवाबदेह शासन का विकल्प नहीं हो सकते हैं। सोनिया ने पार्टी सांसदों को आगाह किया कि हमारे राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों के पास असीम संसाधन हैं। वे हमें आगे बढ़ने से रोकने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। लेकिन हम अपनी पूरी ताकत लगाकर उनके खिलाफ लड़ेंगे। इस बीच, राहुल गांधी ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि संसद में कांग्रेस संसदीय दल की बैठक हुई, जहां देश के महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई। उन्होंने लिखा कि ऐसे में जब इस संसद का कार्यकाल समाप्त होने को है, मैं संसद में अपने कांग्रेस भाइयों और बहनों से मिले समर्थन और प्रेम के लिए उनका आभारी हूं। उनके कठिन परिश्रम और समर्पण के लिए उन्हें धन्यवाद देता हूं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App