चरणजीत सिंह चन्नी की शपथ से पहले चंडीगढ़ से गुजरी थीं सोनिया गांधी, समारोह के बाद राहुल भी गए मां के पास शिमला

चरणजीत सिंह चन्नी के पंजाब के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को राज्य के लोगों को नई शुरुआत के लिए बधाई दी। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने इससे पहले आज चंडीगढ़ स्थित पंजाब राजभवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लिया।

Charanjit Singh Channi, Sonia Gandhi, Chandigarh
कांग्रेस नेता राहुल गांधी पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के साथ (फोटो- PTI)

पंजाब में महीनों से जारी उठापटक के बाद सोमवार को चरणजीत सिंह चन्नी नए मुख्यमंत्री बने। उनके शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए स्वयं राहुल गांधी भी पहुंचे। उसी दौरान सोमवार को ही सोनिया गांधी भी शिमला पहुंची और चंडीगढ़ से गुजरी। कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के बाद मां के पास शिमला जाने के लिए निकल गए।

इंडियन एक्सप्रेस के खबर के अनुसार राहुल चंडीगढ़ पहुंचे, समारोह में शामिल हुए और फिर अपनी मां सोनिया गांधी और बहन और एआईसीसी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से मिलने के लिए शिमला के लिए रवाना हो गए, बताते चलें कि प्रियंका का छराबरा में एक बंगला है। इससे पहले दिन में सोनिया गांधी भी चंडीगढ़ में उतरीं और सड़क मार्ग से शिमला गईं। राहुल और प्रियंका के एक-दो दिनों में वापस आने की संभावना है।

बताते चलें कि दलित नेता चरणजीत सिंह चन्नी के पंजाब के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को राज्य के लोगों को नई शुरुआत के लिए बधाई दी। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने इससे पहले आज चंडीगढ़ स्थित पंजाब राजभवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लिया। गांधी, चंडीगढ़ में अमरिंदर सिंह के घर नहीं गए। सिंह ने कांग्रेस आला कमान पर उनका “निरादर” करने का आरोप लगाते हुए शनिवार को पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। गांधी ने फेसबुक पर लिखा, “पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के शपथ ग्रहण में शामिल हुआ। हम आज भी लोगों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध हैं और आने वाले समय में भी रहेंगे। मैं पंजाब के लोगों को इस नई शुरुआत के लिए बधाई देता हूं।”

गौरतलब है कि अमरिंदर सिंह ने शनिवार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था और कहा था कि विधायकों की बार-बार बैठक बुलाए जाने से उन्होंने अपमानित महसूस किया, जिसके बाद उन्होंने यह कदम उठाया। इस्तीफा देने से पहले अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर हालिया राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर पीड़ा व्यक्त की और इस बात को लेकर चिंता जताई कि इन घटनाक्रम से राज्य में अस्थिरता आ सकती है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट