ताज़ा खबर
 

‘हवाबाजी’ और जनभावनाओं से ‘खिलवाड़’ कर रहे हैं सोनिया और राहुल: भाजपा

भाजपा ने सोनिया गांधी तथा राहुल गांधी पर आरोप लगाया कि दोनों शीर्ष नेता अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में ‘हवाबाजी’ और जनता की भावनाओं से ‘खिलवाड़’..

Author लखनऊ | Published on: September 20, 2015 6:06 PM
राहुल गांधी और सोनिया गांधी। (पीटीआई फाइल फोटो)

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने इन दिनों केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर लगातार हमले कर रहे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर आरोप लगाया कि कांग्रेस के यह दोनों शीर्ष नेता अपने-अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में ‘हवाबाजी’ और जनता की भावनाओं से ‘खिलवाड़’ कर रहे हैं।

भाजपा नेता अजय अग्रवाल ने यहां संवाददाताओं से कहा ‘‘सोनिया जी ने प्रधानमंत्री मोदी पर हवाबाजी करने का आरोप लगाया था लेकिन सचाई यह है कि कांग्रेस अध्यक्ष और उनके पुत्र राहुल अपने-अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों की जनता से हवाबाजी कर रहे हैं। साथ ही वह जनभावनाओं के साथ खिलवाड़ भी कर रहे हैं।’’

पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव में रायबरेली सीट पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के हाथों शिकस्त का सामना करने वाले अग्रवाल ने कहा कि रायबरेली और अमेठी की जनता ने क्रमश: सोनिया और राहुल को बार-बार चुना लेकिन बदले में उसे कुछ नहीं मिला।

अमेठी और रायबरेली की तस्वीर पेश करते हुए भाजपा नेता ने कहा कि दोनों ही संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में बिजली और पानी की किल्लत, सिंचाई की सुविधाओं का अभाव, चिकित्सा व्यवस्था की बदहाली, खराब सड़कें और गरीबी को देखकर ऐसा लगता है कि हम देश के किसी सबसे पिछड़े इलाके में आ गये हैं।

उन्होंने कहा कि केंद्र में कांग्रेस की करीब 10 साल तक सरकार होने के बाद रायबरेली तथा अमेठी की पहचान सबसे विकसित क्षेत्रों के तौर पर होनी चाहिये, जैसा कि सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने सैफई और इटावा का विकास किया और अब प्रधानमंत्री मोदी वाराणसी को चमका रहे हैं।

अग्रवाल ने आरोप लगाया कि अब रायबरेली और अमेठी की जनता को पता लग गया है कि उन्होंने सोनिया और राहुल को वोट देकर बहुत बड़ी गलती की है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार इन दोनों ही क्षेत्रों का बिना किसी भेदभाव के विकास करेगी।

भाजपा नेता ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि वह उन फिरोज गांधी को भूल गयी है जिन्होंने रायबरेली के विकास के लिये अथक प्रयास किये। उन्होंने आरोप लगाया ‘‘इस साल आठ सितम्बर को फिरोज गांधी की पुण्यतिथि आठ सितम्बर पर कांग्रेस ने उन्हें श्रद्धांजलि देने का कोई कार्यक्रम आयोजित नहीं किया।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories