ताज़ा खबर
 

टीवी चैनल का दावा- सोनिया-राहुल की कंपनी ने हवाला कारोबारी से लिया था एक करोड़ कर्ज

टीवी चैनल ने दावा किया है कि आयकर विभाग यंग इंडिया प्राइवेट लिमिटेड मामले की जांच में जल्द ही आरोपपत्र दायर कर सकता है।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी। (फाइल फोटो)

समाचार चैनल टाइम्स नाउ ने एक रिपोर्ट में दावा किया है कि गांधी परिवार के जुड़ी कंपनी यंग इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (वाईआईपीएल) ने एक हवाला कारोबारी द्वारा चलायी जाने वाली कोलकाता स्थित कथित मुखौटा कंपनी से करीब एक करोड़ रुपये का कर्ज लिया था। सोनिया गांधी और राहुल गांधी वाईआईपीएल के शेयर धारक हैं। टाइम्स नाउ ने दावा किया है कि उसके पास वाईआईपीएल के हवाला से संबंध से जारी जांच की स्टेटस रिपोर्ट की प्रति मौजूद है। टाइम्स नाउ ने दावा किया है कि उसके पास मौजूद दस्तावेज के अनुसार हवाला कारोबारी की मदद से एसोशिएटेड जर्नर्लस लिमिटेड (एजेएल) पर नियंत्रण पाने के लिए किया गया।

एजेएल ही यंग इंडिया प्राइवेट लिमिटेड को नियंत्रित करता है। आयकर विभाग यंग इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की खरीद में हुई कथित अनियमितता की जाँच कर रहा है। टाइम्स नाउ ने दावा किया है कि आयकर विभाग जल्द ही मामले में आरोपपत्र दायर करेगा और सोनिया और राहुल पर करीब 250 करोड़ रुपये की कर चोरी के लिए जुर्माना लगाने की मांग करेगा। अक्टूबर 2017 में आयकर विभाग ने जाँच के दौरान यंग इंडिया को मिलने वाले टैक्स छूट खत्म कर दी थी।

HOT DEALS
  • Moto Z2 Play 64 GB Fine Gold
    ₹ 15750 MRP ₹ 29499 -47%
    ₹0 Cashback
  • Coolpad Cool C1 C103 64 GB (Gold)
    ₹ 11290 MRP ₹ 15999 -29%
    ₹1129 Cashback

एजेएल के पास नेशनल हेरल्ड अखबार का स्वामित्व है। इस मामले में अदालत में शिकायत करने वाला बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने टाइम्स नाउ से कहा कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) कांग्रेस नेताओं के खिलाफ कालेधन का मामला दर्ज कर सकता है और वाईआईपीएल के बोर्ड डायरेक्टरों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया जाना चाहिए। मई 2017 में दिल्ली हाई कोर्ट ने स्वामी की शिकायत पर नेशनल हेरल्ड मामले की जांच का आदेश दिया था। वहीं सोनिया गांधी और राहुल गांधी इन आरोपों से इनकार करते रहे हैं। एजेएल और नेशनल हेरल्ड से जुड़े अन्य लोग भी स्वामी के लगाए आरोपों को बेबुनियाद बताते रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App