झारखंड: रामनवमी पर जुलूस में आपत्तिजनक भजन के चलते हजारीबाग में हुई हिंसा - Jansatta
ताज़ा खबर
 

झारखंड: रामनवमी पर जुलूस में आपत्तिजनक भजन के चलते हजारीबाग में हुई हिंसा

झारखंड के हजारीबाग में रामनवमी के मौके पर हुई हिंसा के बाद लगाया गया कर्फ्यू सोमवार को भी जारी रहा। बताया जा रहा है कि झगड़े की असल वजह रामनवमी जुलूस के दौरान बजाया एक भजन था।

Author हजारीबाग | April 19, 2016 8:01 AM
हजारीबाग के झंडा चौक में हिंसा के बाद पसरा सन्‍नाटा। (Express Photo: Prashant Pandey)

झारखंड के हजारीबाग में रामनवमी के मौके पर हुई हिंसा के बाद लगाया गया कर्फ्यू सोमवार को भी जारी रहा। बताया जा रहा है कि झगड़े की असल वजह रामनवमी जुलूस के दौरान बजाया एक भजन था। पुलिस अधिकारियों और स्‍थानीय लोगों का कहना है कि इस तरह के गाने पहले भी रैलियां का हिस्‍सा रहे हैं। बता दें कि हजारीबाग में रविवार को हुई हिंसा 1989 के बाद की सबसे बड़ी हिंसा है।

रेवली गांव में तैनात एक पुलिस अधिकारी ने बताया,’जिस गाने को लेकर कहा जा रहा है कि इसके चलते हिंसा हुई वह वास्‍तव में कुछ नहीं है। मुझे याद है पिछले साल भजन के बोल और ज्‍यादा तीखे थे। इसमें पड़ोसी देश को चीर डालने तक की बात की गई थी। ये गाने साम्‍प्रदायिक नहीं है।’ पुलिस का कहना है कि हर साल पूजा समितियों को इस तरह के गाने नहीं बजाने को कहा जाता है। वे इस बात पर सहमत भी हो जाते हैं लेकिन फिर भी ऐसा करते हैं।

अधिकारियों का कहना है कि इस तरह के गानों पर प्रतिबंध लगाना मुश्किल होगा। हजारीबाग के एसपी अखिलेश झा ने कहा कि प्रशासन कोशिश कर चुका है कि कम से कम इस तरह के गाने कम आवाज पर बजाए जाएं। पुलिस सूत्रों का कहना है कि दूसरे समुदायों के क्षेत्रों में जुलूस को ज्‍यादा देर रोकना भी हिंसा का कारण हो सकता है। हिंसा के बाद लगभग एक दर्जन दुकानों और आधा दर्जन वाहनों को जला दिया ग

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App