ताज़ा खबर
 

बीजेपी विधायक ने सोनाली बेंद्रे की ‘मौत’ पर किया ट्वीट, लताड़ पड़ी तो बताया अफवाह

विधायक ने अभिनेत्री को श्रद्धांजलि भी दे दी। आधारहीन अफवाह पर यकीन करने के लिए ट्रोल किये जाने के बाद उन्होंने अपना संदेश हटा लिया।

Author September 8, 2018 11:57 AM
घाटकोपर से भाजपा सांसद राम कदम। (Express archive photo by Prashant Nadkar)

‘लड़कियों को अगवा करने’ संबंधी बयानों को लेकर आलोचनाओं का सामना कर रहे भाजपा विधायक राम कदम अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे के निधन की गलत खबर को ट्वीट करके एक बार फिर से विवादों में आ गए। गलत सूचना ट्वीट किये जाने को लेकर लोगों के ट्रोल करने के बाद उन्होंने अपना पोस्ट हटा लिया। बेंद्रे अभी अमेरिका में कैंसर का उपचार करा रही हैं। कदम ने मराठी में ट्वीट किया कि ‘बॉलीवुड और मराठी दिवा’ सोनाली बेंद्रे का अमेरिका में निधन हो गया। विधायक ने अभिनेत्री को श्रद्धांजलि भी दे दी।

आधारहीन अफवाह पर यकीन करने के लिए ट्रोल किये जाने के बाद उन्होंने अपना संदेश हटा लिया। उन्होंने इसके बाद एक अन्य ट्वीट कर कहा, ‘‘सोनाली बेंद्रे जी के बारे में पिछले दो दिन से अफवाह उड़ रही थी। मैं उनकी अच्छी सेहत और जल्द ठीक होने की भगवान से प्रार्थना करता हूं।’’

इस हफ्ते की शुरूआत में राम कदम द्वारा की गई महिला विरोधी टिप्पणी पर मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस की चुप्पी को लेकर राकांपा ने सवाल उठाया। विधायक ने कहा था कि लड़कों को शादी में मदद करने के लिये वह लड़कियों को अगवा कर लेंगे। विपक्षी पार्टी ने फडणवीस से पूछा कि क्या विधायक की इस ‘‘मंशा’’ को सत्तारूढ़ भाजपा की मौन स्वीकृति मिली हुई है?

कदम ने हालांकि इस पर माफी मांग ली है लेकिन वह अपनी इस बात पर भी कायम रहे कि राजनीतिक विरोधियों ने उनकी टिप्पणी को तोड़-मरोड़ कर पेश किया। फडणवीस पर हमला बोलते हुए महाराष्ट्र कांग्रेस के महासचिव सचिन सावंत ने शुक्रवार को कहा कि मुख्यमंत्री का ‘‘जानबूझकर इस मुद्दे पर चुप्पी साधे रहना’’ निंदनीय है और यह उनके पद की ‘‘गरिमा’’ के अनुकूल नहीं है।

सोनाली बेंद्रे कैंसर से जूझ रही हैं। उनमें ‘हाई ग्रेड कैंसर’ की पहचान की गई है और उनका न्यूयॉर्क में इलाज चल रहा है। इसकी जानकारी देते हुए 4 जुलाई को सोनाली ने एक लंबी पोस्ट में कहा था, “कभी-कभी जब आपको जरा भी उम्मीद नहीं होती जिंदगी अचानक आपको अजीब से मोड़ पर लाकर खड़ा कर देती है। हाल ही में मुझ में हाई-ग्रेड कैंसर की पहचान की गई है, जिसके बारे में वाकई में हमें पता तक नहीं चला।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App