कोरोना के बीच चुनावः रैलियों को लेकर PM ट्रोल, ‘सुपर स्प्रेडर’ बता लोग बोले- ट्रूडो मरीजों से मिले, मोदी भाषणों में व्यस्त

प्रधानमंत्री मोदी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए बचे तीन चरणों के मतदान के लिए जमकर प्रचार कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी की रैलियों में कोरोना गाइडलाइन की खूब धज्जियां उड़ाई जा रही है।

corona, india, canadaएक ट्विटर यूजर ने प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो अस्पताल जाकर अपने देश के लोगों का हालचाल ले रहे हैं जबकि प्रधानमंत्री मोदी चुनावी रैलियों में व्यस्त हैं। (फोटो- ट्विटर/BJP4India/JustinTrudeau )

देशभर में कोरोना वायरस का संक्रमण काफी तेजी से फैलता जा रहा है। इतना ही नहीं देश में पहली बार एक दिन में कोरोना संक्रमण के मामले ढाई लाख के पार हो गए हैं। इतने भयंकर कोरोना संकट के बावजूद प्रधानमंत्री मोदी समेत कई बड़े नेता पश्चिम बंगाल की चुनावी रैलियों में व्यस्त हैं। इसी बीच कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो का एक फोटो वायरल हो रहा है जिसमें वह लोगों के बीच जाकर उनका हालचाल पूछते दिख रहे हैं। कनाडाई और भारतीय प्रधानमंत्री की तुलना कर लोग सोशल मीडिया पर खूब तंज कस रहे हैं।

दरअसल प्रधानमंत्री मोदी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए बचे तीन चरणों के मतदान के लिए जमकर प्रचार कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी की रैलियों में कोरोना गाइडलाइन की खूब धज्जियां उड़ाई जा रही है। खचाखच भरी भीड़ में सोशल डिस्टेंसिंग तो दूर कई लोग मास्क बिना मास्क के भी दिखाई दे रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी की रैलियों की फोटो शेयर कर लोग काफी तंज कस रहे हैं। इतना ही नहीं कई लोग तो पीएम मोदी को कोरोना सुपर स्प्रेडर भी बता रहे हैं। आज #superspreaderModi भी ट्विटर पर खूब ट्रेंड करता रहा।

प्रधानमंत्री मोदी की रैली वाली फोटो को शेयर करते हुए संजीव गोयल नाम के एक ट्विटर यूजर ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ब्रिटिश राज परिवार में ड्यूक ऑफ़ एडिनबर्ग के अंतिम संस्कार में भी सिर्फ 30 लोग ही मौजूद थे। इतना ही नहीं कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए बनी गाइडलाइन का पालन करते हुए ब्रिटेन के प्रधानमंत्री भी अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हुए। जबकि भारत के प्रधानमंत्री अपने देश में रिकॉर्ड तोड़ संक्रमण होने के बावजूद चुनावी रैली को संबोधित कर रहे हैं। इतना ही नहीं लोगों को बड़ी संख्या में जुटने के लिए उकसा भी रहे हैं।

साथ ही sidxstan नाम के यूजर ने भी सुपर स्प्रेडर मोदी वाला हैशटैग यूज करते हुए लिखा कि जिन लोगों ने मोदी और भाजपा को वोट दिया है वे ही लोग देश की दुर्दशा के लिए जिम्मेदार हैं। वहीं ट्विटर यूजर पैट्रियोटिक इंडियन ने भी इसी हैशटैग को यूज करते हुए अमित शाह और पीएम मोदी की साथ वाली तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट करते हुए लिखा कि कोरोना वायरस का डबल म्युटेंट इंडिया में मिल गया है। 

हालांकि इस दौरान कई सोशल मीडिया यूजर्स ने कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की फोटो शेयर करते हुए इसकी तुलना प्रधानमंत्री मोदी से कर दी। दरअसल शेयर किए गए फोटो में कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो अपने देश के अलग अलग अस्पतालों में जाकर टीकाकरण अभियान की समीक्षा कर रहे थे। जस्टिन ट्रूडो के टीकाकरण अभियान वाली फोटो को शेयर करते हुए एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा कि कनाडाई प्रधानमंत्री देश के लोगों से जाकर उनका हाल चाल ले रहे हैं और हमारे प्रधानमंत्री रैलियों में व्यस्त हैं। 

इसके अलावा कांग्रेस समर्थक आचार्य प्रमोद कृष्णन ने भी अमित शाह और प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि ना “दवाई”,ना “कड़ाई”,महाझूठे है “दोनों” भाई. दरअसल कोरोना की वजह से बिगड़े हालात को लेकर लोग पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह सहित पूरी भाजपा सरकार को ही जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। जबकि भाजपा के अधिकांश नेता चुनावी रैलियों में व्यस्त हैं। बता दें कि पिछले 24 घंटे में ही देश में कोरोना के 2 लाख 61 हजार 500 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ कुल पॉजिटिव केसों की संख्या 1.47 करोड़ के पार पहुंच गई है। वहीं, 1501 नई मौतों के साथ कुल मौतें 1 लाख 77 हजार 150 हो गई है। 

Next Stories
1 इंदौर में BJP नेताओं ने कराई ऑक्सीजन टैंकर की पूजा, VIDEO देख बोले लोग- ये कोरोना से मजाक कर रहे हैं
2 काशी में कोरोना के हाल की PM ने की समीक्षा, पूर्व FM का तंज- बंगाल जीतने की जंग में से महामारी को वक्त निकालने का शुक्रिया
3 कोरोना से देश में हाहाकार: केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने ट्विटर पर मांगी मदद, लिखा- प्लीज हेल्प करें मेरे भाई को कोरोना इलाज में
ये पढ़ा क्या?
X