ताज़ा खबर
 

सिर्फ 1 लाख रुपये देकर कपिल सिब्‍बल ने खरीदी दिल्‍ली में जमीन? स्मृति ईरानी का सनसनीखेज आरोप

केंद्रीय मंत्री ने स्‍मृति ईरानी ने कपिल सिब्‍बल पर मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी व्‍यक्ति से व्‍यावसायिक संबंध होने का आरोप लगाया है। उन्‍होंने कहा कि यूपीए सरकार के दौरान ही सीबीआई अधिकारियों को घूस देने के मामले में उसके खिलाफ जांच चल रही थी। स्‍मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी से भी सवाल पूछा कि क्‍या उन्‍हें यह स्‍वीकार्य है?

Author नई दिल्‍ली | March 29, 2018 9:33 PM
स्‍मृति ईरानी और कपिल सिब्‍बल। (फाइल फोटो)

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता कपिल सिब्‍बल पर केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्‍होंने कांग्रेस नेता पर कौड़ियों के दाम में करोड़ों की जमीन खरीदने का आरोप मढ़ा है। मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि सिब्‍बल ने नई दिल्‍ली इलाके में स्थित 89 करोड़ की संपत्ति महज एक लाख रुपये का भुगतान कर खरीद लिया। स्‍मृति ईरानी ने इसी को लेकर कांग्रेस नेता पर हमला बोला है। केंद्रीय मंत्री ने गुरुवार (29 मार्च) को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दो पत्रिकाओं में छपी रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी पियूष गोयल नामक शख्स से कपिल सिब्बल का संबंध था। इस शख्स पर सरकार ने हवाला कारोबार में लिप्त रहने का आरोप लगाया था। ईरानी ने पूछा कि ऐसे शख्‍स के साथ व्‍यापार करने की क्‍या जरूरत थी? उन्‍होंने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के पत्रकारों ने इस बाबत सिब्‍बल से संपर्क किया था, लेकिन उन्‍होंने इस मामले में झूठ बोला था।

भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी से पूछा कि अब वह इस मामले में जवाब दें कि क्‍या उन्‍हें यह स्‍वीकार्य है? स्‍मृति ईरानी ने कहा कि सिब्बल ने एक ऐसे शख्स से डील की जो मनी लॉन्ड्रिंग और सीबीआई के एक अफसर को रिश्वत देने का आरोपी था। यूपीए की ही सरकार ने उसके खिलाफ जांच के आदेश दिए थे। ईरानी के अनुसार, जिस व्यक्ति के खिलाफ सीबीआई रिश्वतखोरी के आरोपों की जांच कर रही थी, उसी व्यक्ति से सिब्बल और उनकी धर्मपत्नी ने ग्रैंड कैस्टिलो नाम की कंपनी का मालिकाना हक प्राप्त किया।

क्‍या राहुल गांधी से सवाल: केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कपिल सिब्बल किसी आरोपी के साथ बिजनेस डील करना चाहते हैं तो यह उनका निर्णय है, लेकिन क्या राहुल गांधी को यह स्वीकार्य है? ईरानी ने दो पत्रिकाओं में प्रकाशित रिपोर्ट का हवाला दिया था। उन्‍होंने कहा था कि इस बाबत जब दक्षिण अफ्रीकी पत्रकारों ने सिब्‍बल से पूछा था तो उन्‍होंने उनसे भी तथ्‍य छुपाए थे। ‘ऑपइंडिया’ में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, कपिल सिब्‍बल ने नई दिल्‍ली इलाके में 89 करोड़ रुपये की संपत्ति कौड़ियों के भाव में खरीद लिए थे। इस रिपोर्ट के मुताबिक, कपिल सिब्‍बल और उनकी पत्‍नी ने ग्रैंड कैस्टिलो प्राइवेट लिमिटेड की 100 फीसद शेयर (दोनों के नाम 50-50 फीसद शेयर) खरीद ली थी। इसके एवज में सिर्फ एक लाख रुपये का भुगतान किया गया था। अधिग्रहण से पहले कंपनी के पास नई दिल्‍ली नगर निगम इलाके में 89 करोड़ रुपये मूल्‍य की जमीन थी।

कपिल सिब्‍बल पत्रिकाओं के खिलाफ ठोकेंगे मानहानि का दावा: कांग्रेस नेता और वरिष्‍ठ अधिवक्‍ता कपिल सिब्‍बल ने दोनों पत्रिकाओं के खिलाफ मानहानि का दावा ठोकने की बात कही है। स्‍मृति ईरानी के आरोपों पर सिब्‍बल बोले कि जिस मंत्री को मनी लॉन्ड्रिंग के बार में पता नहीं वे आरोप लगा रहे हैं। हालांकि, सिब्‍बल ने कंपनी खरीदने की बात मानी है। उन्‍होंने कहा कि वह खबर छापने वाली पत्रिका पर मानहानि का मुकदमा करेंगे। सिब्बल ने कहा कि उन्हें लगा कि स्मृति ईरानी सीबीएसई पेपर लीक पर कुछ बोलेंगी, लेकिन वे उल्टा आरोप लगा रही हैं। वह बच्चों के भविष्य को लेकर जरा भी चिंतित नहीं हैं।

सिब्बल ने इस मुद्दे में राहुल गांधी को घसीटने पर भी ईरानी की आलोचना की। उन्होंने कहा, “यह बहुत दुखद है कि इस देश में अर्थशास्त्र और गणित के प्रश्नपत्र लीक हो गए, जो कभी भी पहले नहीं हुआ था। मैं मानव संसाधन मंत्री भी रह चुका हूं। अगर आप चुनाव आयोग की बात करते हैं, तो चुनाव की तारीख लीक हो गई। अगर आप आधार को देखते हैं, तो उसका डाटा लीक हो गया है। लेकिन, जब उन्हें अपनी डिग्री बचानी होती है तो सूचना कभी लीक नहीं होती। इसलिए सरकार को पता है कि सूचनाओं की रक्षा कैसे करनी है। जो वह लीक होने देना नहीं चाहते, वह लीक नहीं होती है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App