ताज़ा खबर
 

SIP Investment : मात्र 500 रुपए के निवेश से कर सकते हैं लाखों रुपयों की कमाई, इस तरह से होता है फायदा

SIP Investment के जरिए छोटे इंवेस्‍टर्स लांग टर्म में बड़ा रिटर्न पा सकते हैं। छोटी एसआईपी यानी 500 रुपए प्रति माह शुरू कर सकते हैं। इससे छोटे निवेशकों को काफी फायदा होता है। अगर आप किसी महीने या साल में इसे बढ़ाना चाहते हैं तो बढ़ा भी सकते हैं।

7th PayCommission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए कोरोना काल में डबल बोनांजा! अब TA पर आया यह अपडेट

कोरोना महामारी की वजह से आम लोगों को काफी नुकसान हुआ है। आमदनी कम होने के कारण इनकम के दूसरे जरिए भी तलाश रहे हैं। लेकिन रुपयों की कमी आड़े आ रही है। हर काम में रुपयों की जरुरत होती है। वैसे मार्केट में कम रुपयों से मोटा रुपया कमाने के कई ऑप्‍शन हैं। जिसमें म्यूचुअल फंड और एसआईपी शामिल है। अगर एसआईपी की बात करें तो कम निवेश में ज्‍यादा रिटर्न पाने का बेहतरीन ऑप्‍शन है। शेयर बाजार से बेहतर रिटर्न मिलने के कारण सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान को निवेश के रूप में चुना जा सकता है।

500 रुपए से कर सकते हैं शुरुआत : एसआईपी के माध्‍यम से म्‍यूचुअल फंड में इंवेस्‍टमेंट करने का सबसे सु‍र‍क्षित और बेहतर तरीका है। इसमें आपको किसी मोटी रकम की जरुरत नहीं होती है। यहां आप हर महीने छोटी रकम के साथ शुरूआत कर सकते हैं। कम सैलरी वाले लोगों के लिए यह निवेश काफी फायदेमंद साबित हो रहे हैं। इसमें सबसे बड़ा फायदा य‍ह है कि निवेश की राशि को कभी बढ़ाया जा सकता है। जानकारों की मानें तो इसमें लंबी अवधि के लिए निवेश करना चाहिए। अच्‍छे रिटर्न की संभावना बनी रहती है। बाजार में बहुत सी ऐसी एसआईपी है जो 500 रुपए के निवेश से शुरू हो सकती है।

इस तरह‍ के होते हैं फायदे : – जो बाजार की जोखिम से दूर रहना चाहते हैं उनके लिए एसआईपी इक्‍विटी एवं डेट फंड में निवेश बैटर ऑप्‍शन है।
– एसआईपी के माध्‍यम से आप मार्केट में छोटी रकम के साथ आसान किस्‍तों में शुरुआत कर सकते हैं।
– इसमें निवेशकों को कंपाउंडिंग का बेनिफिट मिलता है, जो लंबी अवध‍ि में ज्‍यादा रिटर्न देने की कोशिश करता है।
– अगर आप अपने एसआईपी निवेश को बढ़ाना चाहते हैं तो टॉपअप के जरिए 500 रुपए के निवेश को 600 रुपए कर सकते हैं।
– बाजार में गिरावट के दौरान अपनी एसआईपी को पौज भी करा सकते हैं और मार्केट के सही होने के बाद रिज्‍यूम कर सकते हैं।

निवेश के लिए यह डॉक्‍युमेंट्स होना जरूरी : – सबसे पहले आपको केवाईसी कराना होता है।
– पैनकॉर्ड, एड्रेसप्रूफ, पासपोर्ट साइज फोटोग्रॉफ और चेकबुक होना जरूरी।
– एसआईपी पेमेंट के डेबिट के लिए आपको बैंक अकाउंट डिटेल भी देनी होगी।
– ऑनलाइन ट्रांसजेक्शन के लिए आपको एक यूजर नेम और पॉसवर्ड बनाना होगा।

Next Stories
1 आखि‍र क्‍या होती है Gratuity? कैसे करते हैं कैल्‍कुलेट? ऐसा होता है फॉर्मूला?
2 अमरीकी बैंक के एक फैसले से हिला दुनिया का क्रिप्‍टो करेंसी मार्केट, बिटक्‍वाइन 39000 डॉलर से नीचे आया
3 Gold And Silver Price में भारी गिरावट, जानिए कितना हो गया है सस्‍ता
ये पढ़ा क्या?
X