ताज़ा खबर
 

मोदी के मेगा शो पर सिंगापुर सरकार का अड़ंगा, इवेंट में शामिल होने के लिए भारतीयों को लेनी होगी परमिशन

अंग्रेजी अखबार 'द टेलीग्राफ' ने दावा किया है कि सिंगापुर ने इस फैसले के पीछे की वजह नहीं बताई है। मेडिसन स्‍क्‍वायर गार्डन जैसा प्रोग्राम आयोजित करना चाहते हैं मोदी समर्थक, लेकिन अब सीटें तक नहीं भर पाने का खतरा।

Author नई दिल्‍ली | November 2, 2015 7:38 PM
सिंगापुर तेलुगु समाजम ने ‘www.namoinsingapore.org’ मोदी के शो में हिस्‍सा लेने के लिए सदस्‍यों से इस वेबसाइट पर रजिस्‍ट्रेशन करने के लिए कहा है।

सिंगापुर सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेगा शो में अड़ंगा लगा दिया है। पीएम मोदी 24 नवंबर को सिंगापुर में मेगा शो करने वाले हैं। इस कार्यक्रम की जोर-शोर से तैयारी चल रही है, लेकिन ऐन मौके पर सिंगापुर सरकार ने यू-टर्न ले लेते हुए प्रोग्राम में शामिल होने के लिए परमिशन की शर्त लगा दी है। सरकार ने अस्‍थायी और स्‍थायी रूप से सिंगापुर में रह रहे भारतीयों से कहा है कि वे इवेंट में शामिल होने से पहले एप्लीकेशन देकर इजाजत लें। अंग्रेजी अखबार ‘द टेलीग्राफ’ ने दावा किया है कि सिंगापुर ने इस फैसले के पीछे की वजह नहीं बताई है। मोदी समर्थकों ने अमेरिका के मेडिसन स्‍क्‍वायर गार्डन जैसे प्रोग्राम की तैयारी कर रहे हैं। उन्‍हें उम्‍मीद थी कि 100,000sqm का सिंगापुर एक्‍सपो खचाखच भर जाएगा, लेकिन अब वे घबरा रहे हैं। उन्‍हें डर है कि इस आदेश की वजह से कहीं एक्‍सपो खाली न रह जाए, क्‍योंकि अगर ऐसा हुआ न्‍यूज चैनल खाली सीटों को कैप्‍चर कर लेंगे और देश में पीएम मोदी की किरकिरी हो जाएगी।

रिपोर्ट के मुताबिक “NAMO in Singapore” को आर्गनाइज कर रही सिंगापुर तेलूगु समाजम ने सर्कलुर जारी कर सभी अनिवासी भारतीयों से अपील की है कि जो भी पीएम मोदी के इवेंट में जाना चाहते हैं, वे वेबसाइट पर ‘www.namoinsingapore.org’ विजिट करें। प्रोग्राम के आर्गनाइजर ने इवेंट में भाग लेने वाले प्रत्‍येक व्‍यक्ति को एक कोड दिया है। सर्कुलर 19 अक्‍टूबर को जारी किया गया है, जिसमें लिखा है कि अगर कोई सदस्‍य “NAMO in Singapore” में भाग लेना चाहता है तो वह इच्‍छा जता सकता है। इसमें लिखा है कि कृपया ध्‍यान रखें कि यह रजिस्‍ट्रेशन सिर्फ इतना बताता है कि आप इच्‍छुक हैं, लेकिन आपको एंट्री पास मिलेगा या नहीं, इसकी गारंटी नहीं ली जा सकता है।

लगातार ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट्स, एनालिसिस, ब्‍लॉग पढ़ने के लिए आप हमारा फेसबुक पेज लाइक करें, गूगल प्लस पर हमसे जुड़ें और ट्विटर पर भी हमें फॉलो करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App